गोपालगंज: बारिश से गिरा 200 साल पुराना पेड़, हथुआ-भोरे मार्ग बंद

पेड़ के गिरने से हाईटेंशन बिजली के तार और पोल टूट गए हैं, जिससे हथुआ और उसके आसपास के इलाकों में कई घंटे से बिजली की आपूर्ति बाधित है.

News18 Bihar
Updated: September 11, 2019, 7:35 PM IST
गोपालगंज: बारिश से गिरा 200 साल पुराना पेड़, हथुआ-भोरे मार्ग बंद
200 साल पुराने पेड़ की इलाके में एक पहचान थी.
News18 Bihar
Updated: September 11, 2019, 7:35 PM IST
गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) में बुधवार को आई भारी बारिश के बाद जिले में जहां जगह-जगह भारी जलजमाव हो गया है, वहीं हथुआ में दुर्गा मंदिर के नजदीक 200 साल पुराना विशाल ईमली के पेड़ के गिर जाने से हथुआ-भोरे (Hathua-Bhore) मुख्य मार्ग बंद हो गया है.

पेड़ गिरने से कोई आदमी हताहत नहीं
इस पेड़ में दबने से कई झोपड़ियों को नुकसान हुआ है. लेकिन राहत की बात यह है कि जब यह पेड़ गिरा तब इन झोपड़ियों में कोई नहीं था. इस पेड़ के गिरने से हाईटेंशन बिजली के तार और पोल टूट गए हैं, जिससे हथुआ और उसके आसपास के इलाकों में कई घंटे से बिजली की आपूर्ति बाधित है.

पेड़ की इलाके में थी पहचान

स्थानीय लोगों के मुताबिक आज हथुआ में तेज हवा के साथ बारिश हो रही थी. कई घंटे से लगातार बारिश के बाद हथुआ के दुर्गा मंदिर के समीप खड़ा यह विशालकाय ईमली का पेड़ अचानक मिट्टी सहित उखड़ गया. बताया जाता है कि यह पेड़ करीब 200 साल पुराना था. इस पेड़ की इलाके में एक पहचान थी.

जिला मुख्यालय से संपर्क टूटा 
इस विशालकाय पेड़ के गिरने से मीरगंज से हथुआ होकर भोरे जाने वाला मुख्य मार्ग बंद गया है. जिसकी वजह से भोरे और विजयीपुर प्रखंडों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है. स्थानीय प्रशासन के द्वारा पेड़ की बड़ी-बड़ी शाखाओ को काटकर हटाने की कोशिश की जा रही है. जिससे आवागमन दोबारा चालू किया जा सके.
Loading...

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 7:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...