गोपालगंज: व्यवसायी सन्नी हत्याकांड में दोषियों को उम्रकैद की सजा

पीड़ित परिवार के परिजन
पीड़ित परिवार के परिजन

सभी अपराधियों ने 15 अप्रैल की रात करीब 09 बजे नगर थाना के श्याम सिनेमा रोड स्थित शो रूम में घुसकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था.

  • Share this:
गोपालगंज के चर्चित रेडीमेड शो रूम व्यवसायी गोलू उर्फ़ सनी गुप्ता की हत्या के मामले में अहम फैसला आया है. इस हत्याकांड में शामिल सभी चारों अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी है.

इसके साथ ही धारा 302 के लिए सभी अभियुक्तों को 50-50 हजार रूपये का अर्थ दंड और धारा 307 के लिए अलग से 10-10 हजार रूपये का जुर्माना सुनाया गया है. पीड़ित पक्ष के अधिवक्ता शरीक इमाम ने कहा की अरोपियो के खिलाफ रंगदारी नहीं देने के कई संगीन आरोप थे. जिसमें कोल्हुआ का रंजन सिंह सहित मिलन सिंह, रॉकी और अंशुमन तिवारी शामिल थे.

सभी अपराधियों ने 15 अप्रैल की रात करीब 09 बजे नगर थाना के श्याम सिनेमा रोड स्थित शो रूम में घुसकर पहले रंगदारी में पैसे की मांग की. पैसा नहीं देने पर दुकान में मौजूद दो भाइयो को चाकू से मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था जिसमें एक भाई गोलू की मौत हो गयी थी. इसी मामले को कोर्ट ने निर्मम हत्या माना और गोपालगंज के एडीजे 08 शोभाकांत मिश्रा की अदालत ने सभी अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाते हुए 60-60 हजार रूपये का अर्थ दंड लगाया है.



इस घटना में गंभीर रूप से घायल सतीश कुमार गुप्ता ने कहा कि वे इस फैसले से संतुष्ट नहीं हैं और अभियुक्तों को फांसी की सजा दिलाने के लिए हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में अपील करेंगे. इस हत्या के बाद बिहार में जमकर सियासी बवाल हुआ था. तब सुशील कुमार मोदी ने भी गोपालगंज में आकार पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज