होम /न्यूज /बिहार /

गोपालगंज में हर घर तिरंगा कार्यक्रम में शामिल होंगे 32 लाख लोग, जानें क्या कुछ खास है तैयारी

गोपालगंज में हर घर तिरंगा कार्यक्रम में शामिल होंगे 32 लाख लोग, जानें क्या कुछ खास है तैयारी

गोपालगंज में बिक्री के लिए तिरंगे के साथ खादी ग्रामोद्योग के कर्मी

गोपालगंज में बिक्री के लिए तिरंगे के साथ खादी ग्रामोद्योग के कर्मी

Gopalganj News: बिहार के गोपालगंज जिले में हर घर तिरंगा कार्यक्रम में 32 लाख लोगों के शामिल होने का अनुमान है. कार्यक्रम के मद्देनजर डीएम ने अपील की है कि घरों और दुकानों पर भी तिरंगा फहराएं. इसके लिये युद्ध स्तर पर तिरंगे का निर्माण कराया जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

गोपालगंज के डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने हर घर तिरंगा अभियान में शामिल होने की अपील की है
गोपालगंज की आबादी 32 लाख से ज्यादा है
गोपालगंज के खादी भंडार में 50 हजार तिरंगा बनाया जा रहा है

गोपालगंज. आजादी का अमृत महोत्सव पूरे देश में धूमधाम से मनाया जा रहा है. 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हर घर तिरंगा फहराया जायेगा. गोपालगंज में भी इस कार्यक्रम की शुरुआत होगी. सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों के अलावा घर-घर तिरंगा फहरेगा. कोने-कोने में सिफ तिरंगा ही तिरंगा दिखेगा. देश भक्ति की भावना जागृत करने के लिए जोर-शोर से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है. गोपालगंज के डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने जिलेवासियों से अपील की है कि इस हर घर तिरंगा अभियान में शामिल हो.

डीएम ने निर्देश दिए कि तिरंगा मानक के अनुसार लगाये लायें. इसके मान-सम्मान में किसी प्रकार कमी न होने पाये. डीएम ने निर्देश दिए कि 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सभी घरों, दुकानों, दफ्तरों पर तिरंगा फहराये जाये. दुकानदार अपनी दुकानों में तिरंगा लाइट एवं गुब्बरे सजायें. क्षेत्र में प्रभात फेरी कार्यक्रम कराये जायें. उन्होंने अधिकारियों से तिरंगा वितरण के संबंध में जानकारी ली. साथ ही सभी विभागों के अधिकारियों को हर घर तिरंगा कार्यक्रम की सफलता के लिए प्रचार-प्रसार कर लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए हैं.

गोपालगंज की आबादी 32 लाख से ज्यादा है, लिहाजा बड़े पैमाने पर तिरंगे की जरूरत पड़ेगी, इसलिए तिरंगे का निर्माण और स्टॉक किया जा रहा है. तिरंगे के निर्माण में जीविका दीदियों को लगाया गया है. गांव-गांव में जीविका दीदियां तिरंगे के निर्माण में लगी हैं. वहीं इनके अलावा समाजसेवी संस्थाएं भी तिरंगा बना रही है. तिरंगे की कमी न हो सके, इसके लिए दिन-रात कुशल एवं प्रशिक्षित कारीगर लगे हुए हैं.

गोपालगंज के अरार स्थित जिला खादी ग्रामोद्योग भंडार में दिन-रात तिरंगे का निर्माण कार्य चल रहा है. करीगर तिरंगा बनाने में लगे हुए हैं. खादी के अध्यक्ष सुदर्शन चौबे ने बताया कि इस बार तिरंगे की खपत अधिक होने के कारण 50 हजार तिरंगा बनाया जा रहा है. डिमांड अधिक होने के कारण कुशल कारीगरों की संख्या बढ़ा दी गयी है.

Tags: Amrit Mahotsav of Azadi, Bihar News, Gopalganj news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर