बिहारः गोपालगंज में नहीं है ऑक्सीजन की कमी, छपरा-सीवान समेत अन्य शहरों को भी दे रहा सिलेंडर

ऑक्सीजन सिलेंडर.

Bihar Oxygen Crisis: बिहार के कई जिलों में जारी ऑक्सीजन की किल्लत के बीच गोपालगंज जिला रोजाना अपने आवश्यक्ता की पूर्ति करने के साथ अन्य जिलों को भी पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन दे रहा है.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार में कोरोना महामारी के दौरान हो रही ऑक्सीजन की किल्लत से गोपालगंज जिला अछूता है. यहां ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है और रोजाना औसतन 400 सिलेंडर गोपालगंज के अलावा छपरा, सीवान समेत दूसरे जिलों को सप्लाई की जा रही है.

हथुआ एसडीएम अनिल कुमार रमन ने सोमवार की रात मीरगंज के छाप मठिया गांव स्थित ऑक्सीजन प्लांट का औचक निरीक्षण किया. यहां पर प्लांट में मौजूद ऑक्सीजन की उपलब्धता की जानकारी ली, स्टॉक का रजिस्टर चेक किया. इस मौके पर मीरगंज पुलिस, हथुआ बीडीओ, मीरगंज सीईओ और अन्य अधिकारी भी मौजूद थे.

छाप के प्लांट में आक्सीजन की कोई कमी नहीं
एसडीएम अनिल कुमार रमन ने बताया कि छाप स्थित ऑक्सीजन प्लांट में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. वर्तमान में गोपालगंज के अलावा सीवान, छपरा, बेतिया और दूसरे जिलों को भी यहां से ऑक्सीजन की जरूरत पड़ने पर सप्लाई की जा रही है. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों द्वारा अफवाह फैला कर स्थिति को पैनिक करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि लोग घबराए नहीं और लोग सरकारी संस्थानों में या निजी संस्थानों में जहां सुविधा हो इलाज करायें.



आक्सीजन नहीं, सिलिंडर कम पड़ने लगे हैं.
वहां पर जरूरत पड़ने पर ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है. प्लांट के संचालक डॉ संजय कुमार ने बताया कि लोगों के द्वारा डर और अफवाह की वजह से इस प्लांट के ऑक्सीजन सिलेंडर को घर पर स्टॉक कर लिया गया है. यहां पर ऑक्सीजन की कमी नहीं है बल्कि ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी होने लगी है.

जनता से सिंलिंडर वापस करने की अपील
लोगों से अपील है कि लोग अगर घरों में स्टॉक रखे हुए हैं तो सिलेंडर को तत्काल वापस करें ताकि जरूरत पड़ने पर दूसरों को ऑक्सीजन आसानी से उपलब्ध कराया जा सके. डॉ संजय कुमार ने बताया कि ऊपर से ऑक्सीजन की अभी कोई कमी नहीं है, इसलिए जिले में भी ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.