लॉकडाउन: गोपालगंज के PDS डीलरों को डीएम ने अनाज चुराते रंगे हाथों पकड़ा, FIR का दिया आदेश
Gopalganj News in Hindi

लॉकडाउन: गोपालगंज के PDS डीलरों को डीएम ने अनाज चुराते रंगे हाथों पकड़ा, FIR का दिया आदेश
गोपालगंज में छापेमारी करने पहुंचे वहां के डीएम

गोपालगंज (Gopalganj) के डीएम ने बताया कि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान रेगुलर राशन पैसे लेकर देना है इसके साथ ही प्रत्येक कार्ड पर प्रति व्यक्ति 05 किलो चावल मुफ्त देना है. यह वितरण करने की प्रक्रिया पौस मशीन के जरिये ही करनी है.

  • Share this:
गोपालगंज : कोरोना महामारी (Coronviurs) को लेकर लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सरकार ने जरूरतमंदो के बीच अनाज बांटने के आदेश दिए हैं. यह अनाज पैसे से अनुदानित दर पर तो खरीदे ही जा सकते हैं, इसके साथ ही परिवार के प्रत्येक सदस्य को 05 किलो की दर से प्रति परिवार 25 किलो चावल मुफ्त देने का प्रावधान है. लेकिन गोपालगंज (Gopalganj) में कुछ डीलर (PDS Dealer) सरकार की ऐसी योजनाओ को पलीता लगा रहे हैं और आपदा की इस घड़ी में भी वे गरीबो के बीच बांटने वाले अनाज की चोरी कर रहे हैं. इसका खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि गोपालगंज के डीएम अरशद अजीज ने किया.

DM ने स्टॉक चेक करने का दिया था आदेश

दरअसल डीएम अरशद अजीज ने जिले के सभी अधिकारियों को प्रत्येक डीलर के यहां जांच कर पीडीएस दुकानों के स्टॉक चेक करने का आदेश दिया है. आदेश देने के बाद डीएम का दिल नहीं माना तो वो खुद एसपी के साथ जिले के कई डीलरों के यहां औचक निरीक्षण कर खुद स्टॉक पंजी की जांच करने जा पहुंचे.



पौस मशीन की मदद से हो रही थी चोरी
डीएम ने खुद मीरगंज के कई पीडीएस दुकानों की जांच की. जांच के दौरान उन्होंने दो डीलरों को खाद्यान की चोरी करते रंगेहाथ पकड़ा. उन्होंने बताया की पौस मशीन से उपभोक्ता के नाम पर खाद्यान की निकासी कर ली गयी है लेकिन उन्हें मुफ्त में अनाज नहीं दिया गया. जिसको लेकर अभी तक दो डीलरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है. डीएम ने कहा की खाद्यान वितरण में जो भी गड़बड़ी पाई जाएगी उसके खिलाफ त्वरित कार्रवाई की जाएगी.

कालाबाजारियों को दी चेतावनी

डीएम अरशद अजीज ने मीरगंज के हरनावा गांव में भी पहुंचकर पहले खाद्यान वितरण की जांच की. वितरण के दौरान ही उन्होंने दो डीलरों के यहां स्टॉक का मिलान किया. मिलान के दौरान जब उन्हें संदेह हुए तो उन्होंने मौके पर मौजूद अधिकारियों को पूरी गहन जांच की जिम्मेदारी सौंपी. डीएम ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान रेगुलर राशन पैसे देकर देना है. इसके साथ ही प्रत्येक कार्ड पर प्रति व्यक्ति 05 किलो चावल मुफ्त देना है. यह वितरण करने की प्रक्रिया पौस मशीन के जरिये ही करनी है और नया सिस्टम होने की वजह से डीलरों को ही इसकी अथॉरिटी दी गई है.

ये भी पढ़ें- Lockdown में बाहर जाने के लिए फिर से नहीं निकलवाना होगा पास, जानें नए नियम

ये भी पढ़ें- DGP गुप्तेश्वर पांडेय की चेतावनी- Lockdown में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ा तो कुंडली खराब कर देगी पुलिस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading