Home /News /bihar /

gopalganj police arrested criminals who did crime on different locations bramk

दिन में क्राइम कर रात को स्टेशन पर लगा लेते थे बेड, पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर लुटेरे

गोपालगंज से गिरफ्तार अपराधियों के बारे में जानकारी देते पुलिस अधिकारी

गोपालगंज से गिरफ्तार अपराधियों के बारे में जानकारी देते पुलिस अधिकारी

Gopalganj Criminals Gang: गोपालगंज के एसडीपीओ संजीव कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने खुलासा किया कि सभी चारों सीवान रेलवे जंक्शन पर रात का ठिकाना बनाये हुए थे. दिन में वो गोपलागंज सहित आसपास के जिलों को लूटी और चोरी की गाड़ियों पर सवार होकर निशाना बनाते थे और अपराध की घटनाओं को अंजाम देते थे.

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. बिहार की गोपालगंज पुलिस ने अंतरराज्यीय गिरोह के चार शातिर अपराधियों की गिरफ्तारी की है. गिरफ्तार अपराधियों में एक पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी जिला का रहने वाला है, जबकि तीन कटिहार जिला के कोढ़ा थाना क्षेत्र के गेरा बाड़ी गांव के रहने वाले हैं. पुलिस ने इन अपराधियों के पास से सीवान और कटिहार से चोरी की गयी दो बाइकें, स्मैक का 61 पुड़िया, मोटरसाइकिल का लॉक तोड़नेवाला आपत्तिजनक लोहे का औजार, तीन फर्जी सिम कार्ड, मोबाइल, पांच हजार नगर रुपये बरामद किया है. खास बात ये है कि पकड़े गए सभी अपराधी दिन के उजाले में क्राइम करते थे और फिर रात को स्टेशन के प्लेटफार्म पर सो जाते थे.

सदर एसडीपीओ संजीव कुमार ने बताया कि सभी चारों अपराधी बरौली बाजार में बैंक के पास वारदात को अंजाम देने के लिए पहुंचे थे. पुलिस को गुप्त सूचना मिली, जिसके बाद बरौली थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने इलाके की नाकेबंदी कर चारों शातिर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया. एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार सभी अपराधियों का अपराधिक इतिहास है, जिसकी जांच की जा रही है.

कोढ़ा गैंग से भी कनेक्शन

कटिहार, सीवान और पश्चिम बंगाल की पुलिस से जांच में सहयोग लेकर कोढ़ा गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. उन्होंने बताया कि इन अपराधियों के द्वारा मुख्य रूप से वाहनों की चोरी करना, बैंक ग्राहकों को निशाना बनाकर लूटपाट करना, डकैती और छिनतई करना आदि पेशा था. पुलिस ने इस गिरफ्तारी को बड़ी सफलता बताते हुए राहत की सांस ली है.

सीवान रेलवे स्टेशन को बनाया था रात ठिकाना

पुलिस की जांच में गिरफ्तार अपराधियों ने खुलासा किया कि सभी चारों सीवान रेलवे जंक्शन पर रात का ठिकाना बनाये हुए थे. दिन में गोपालगंज, सीवान और छपरा में चोरी की गयी बाइक से अपराधिक घटनाओं को अंजाम देते थे और रात में सीवान जंक्शन पर जाकर सो जाते थे, इसलिए पुलिस की पकड़ में नहीं आते थे. इनके गिरोह में दो दर्जन से अधिक साथी हैं, जो अलग-अलग ग्रुप बनाकर रहते हैं.

इनकी हुई गिरफ्तारी

-कमलेश यादव पिता शर्मा यादव, घर-झंझुपाड़ा, थाना-राजगंज, जिला- न्यू जलपाईगुड़ी, पश्चिम बंगाल
-राहुल यादव पिता सुंदर यादव, गेरा बाड़ी, कोढा थाना, कटिहार
-नरेश यादव पिता छविलाल यादव, गेरा बाड़ी, कोढा थाना, कटिहार
-सुरेश यादव पिता रामचन्द्र यादव, गेरा बाड़ी, कोढा थाना, कटिहार

तीनों का सिम कार्ड फर्जी दस्तावेज पर निकला

पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि तीनों का सिमकार्ड फर्जी दस्तावेजों पर लिया गया है. पूछताछ के दौरान अपराधियों ने बताया कि लोकेशन और मोबाइन नंबर से पकड़े जाने की डर से पुलिस को चकमा देने के लिए फर्जी दस्तावेजों पर सिमकार्ड लेकर अपराधिक घटनाओं को अंजाम देते थे. पुलिस अब इस मामले में भी एक और प्राथमिकी दर्ज करेगी, जिसमें फर्जी दस्तावेज पर सिमकार्ड लेने का केस शामिल होगा.

Tags: Bihar News, Crime In Bihar, Gopalganj news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर