Assembly Banner 2021

30 का दूल्हा 12 की दुल्हन, फेरों से पहले पंडित समेत बाराती पहुंचे जेल

बिहार के गोपालगंज में नाबालिग बच्ची से शादी रचाता 30 साल का दूल्हा

बिहार के गोपालगंज में नाबालिग बच्ची से शादी रचाता 30 साल का दूल्हा

बिहार के गोपालगंज (Gopalgnaj) में शादी की सारी रस्‍में पूरी हो चुकी थीं, सिर्फ फेरे लेने बाकी थे. उससे पहले ही पुलिस पहुंच गई.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) में प्रशासन ने एक नाबालिग को बालिका वधू बनने से बचा लिया. इस दौरान थावे पुलिस ने 30 साल के वर और 12 साल की वधू को भी हिरासत में लिया है. नाबालिग से शादी (Child Marria कराने के आरोप में पुलिस ने शादी कराने वाले पंडित के साथ-साथ लड़का और लड़की के माता-पिता को भी हिरासत में लिया है. यह कार्रवाई गोपालगंज महिला हेल्पलाइन द्वारा की गई

दरअसल, गोपालगंज के थावे दुर्गा मंदिर परिसर में जहां रोजाना कई जोड़ों की शादी संपन्न कराई जा रही थी. इसमें एक खास जोड़ा भी शादी करने आया था. इसकी सूचना गोपालगंज महिला हेल्पलाइन की प्रबंधक को मोबाइल पर दी गई थी. इसके बाद महिला हेल्पलाइन द्वारा सदर एसडीएम को मामले की जानकारी दी गई. जानकारी में बताया गया कि थावे के एक निजी गेस्ट हाउस में एक 12 साल की नाबालिग युवती की शादी 30 साल के युवक के साथ की जा रही है. इसी सूचना के बाद महिला हेल्पलाइन की टीम ने थावे पुलिस की मदद से यहां निजी गेस्ट हाउस में छापेमारी की और मौके से नाबालिग वधू के साथ शादी रचा रहे युवक और उसके परिजनों को हिरासत में ले लिया.

फेरे से ठीक पहले पहुंची पुलिस
30 वर्षीय युवक का नाम मुन्ना सिंह है जो मीरगंज के साहेबचक निवासी जमादार सिंह का पुत्र है. उसकी शादी नगर थाना के तुरकाहा की रहने वाली 12 वर्षीय नाबालिग के साथ हो रही थी. यहां शादी के लिए वर वधू का गठबंधन भी हो गया था. शादी के सात फेरे होने बाकी थे, जबकि बाकी सारी रस्म अदायगी पूरी कर ली गयी थी.
लड़की का कराया जा रहा मेडिकल टेस्ट


गोपालगंज सदर एसडीएम उपेंद्र कुमार पाल ने बताया कि उन्हें महिला हेल्पलाइन द्वारा सूचना मिली थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई. इस मामले में लड़की के अभिभावक, लड़के के माता-पिता, उसके दो अन्य रिश्तेदार, गेस्ट हाउस के संचालक, शादी कराने वाले पंडित जी को गिरफ्तार किया गया है. महिला हेल्प लाइन की प्रबंधक नाजिया परवीन ने बताया कि नाबालिग लड़की का मेडिकल कराया जायेगा. उसके उम्र को लेकर मेडिकल बोर्ड की टीम के द्वारा जांच की जाएगी. इसके साथ ही बाल विवाह अधिनियम कानून के तहत थावे थाना में सभी अरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- कन्हैया पर देशद्रोह का मामला चलने से वाम दलों की उम्मीदों पर पानी फिरा!

ये भी पढ़ें- औरंगाबाद में हादसे का शिकार हुई बस, दो यात्रियों की दर्दनाक मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज