होम /न्यूज /बिहार /बकरियों को निगल कर झाड़ियों में छिप जाता था विशाल अजगर, 3 घंटे के ऑपरेशन में ऐसा पकड़ाया

बकरियों को निगल कर झाड़ियों में छिप जाता था विशाल अजगर, 3 घंटे के ऑपरेशन में ऐसा पकड़ाया

अजगर को पकड़ने के बाद गांववालों ने राहत की सांस ली.

अजगर को पकड़ने के बाद गांववालों ने राहत की सांस ली.

20 किलो वजन वाला अजगर इतना खतरनाक था कि दो बकरियों के बच्चों को निकल चुका था. इलाके के लोग इस अजगर को मारने के लिए कई ब ...अधिक पढ़ें

गोपालगंज. सांप सबसे खतरनाक जीवों में से एक माना जाता है. उसका नाम सुनते ही ज्यादातर लोगों की जेहन में डर समां जाता है. यदि सामने दिख जाए तो हालत ही खराब हो जाती. गोपालगंज से एक ऐसी ही तस्वीर सामने आई है. जहां 10 फुट लंबा अजगर सड़क पार करते दिखाई दिया. जिसके बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया.

सड़क पर रेंगते हुए भाग रहा 20 किलो वजन वाला अजगर इतना खतरनाक था कि दो बकरियों के बच्चों को निकल चुका था. इलाके के लोग इस अजगर को मारने के लिए कई बार कोशिश कर चुके हैं, लेकिन ये अजगर हर बार झाड़ियों में छिप जाता था. लेकिन इस बार अजगर की कोई चालाकी काम नहीं आई. झाड़ियों में घुसने के बाद भी वन्यजीव विशेषज्ञ डॉक्टर जमशेद की नजरों से नहीं बच सका और 3 घंटे की ऑपरेशन के बाद पकड़ा गया.

बताया था कि सदर प्रखंड के मकुनिया गांव के पास यह अजगर नहर किनारे डेरा जमाया हुआ था. कभी बकरियों को मार करने वाला बना डालता था तो कभी छोटे जानवरों को. अजगर को रेस्क्यू कर पकड़ने वाले वन्यजीव विशेषज्ञ डॉक्टर जमशेद बताते हैं कि 10 फुट लंबा और 20 किलो वजन वाला ये अजगर सांप छोटे पशुओं और जानवरों के लिए खतरनाक है. ये अजगर बकरियों को आसानी से निकल सकता है और पांच से 8 किलो तक के बच्चों को भी आसानी से मारकर अपना निवाला बना सकता है. इसलिए ये अजगर इलाके के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन चुका था. अब इसे वन विभाग को सौंपा जाएगा, जहां से बड़े जंगल या चिड़िया घर भी आ जाएगा.

गोपालगंज में हाल के दिनों में अजगर मिलने के कई मामले आ चुके हैं. ठंड के मौसम में अजगर सांप बाहर निकलने लगते हैं. वन विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले नवंबर महीने में गोपालगंज जिले के अलग-अलग जगहों से पांच अजगर सांप मिले थे. ऐसे में जंगल झाड़ियों के पास रहने वाले लोगों को सचेत और चौकन्ना रहने की अपील की गई है.

Tags: Bihar News, Gopalganj news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें