लाइव टीवी

मंजूरी के बाद भी नहीं शुरू हुआ ईस्ट-वेस्ट कोरिडोर का निर्माण, JDU सांसद ने लोकसभा में उठाया मुद्दा

Mukesh Kumar | News18 Bihar
Updated: December 8, 2019, 10:47 AM IST
मंजूरी के बाद भी नहीं शुरू हुआ ईस्ट-वेस्ट कोरिडोर का निर्माण, JDU सांसद ने लोकसभा में उठाया मुद्दा
लोकसभा में ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर का मामला उठाते जेडीयू सांसद

एनएच 28 (NH-28) जिसे ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर (East-West Corridor) के नाम से भी जाना जाता है सड़क दिल्ली से असाम तक जाती है. यह सड़क लखनऊ से गोरखपुर होते हुए गोपालगंज होकर गुजरती है

  • Share this:
गोपालगंज. दिल्ली से असाम तक जाने वाले ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर (East-West Corridor) का मुद्दा अब लोकसभा (Loksabha) में भी उठा है. गोपालगंज (Gopalganj) के जदयू सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन ने इस मामले को लोकसभा में उठाया और एनएच 28 (NH-28) की मरम्मती, गोपालगंज शहर से गुजरने वाले हिस्से में फ्लाईओवर बनाने की मांग की.

ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर के नाम से जाना जाता है एनएच 28

एनएच 28 जिसे ईस्ट वेस्ट कॉरिडोर के नाम से भी जाना जाता है. यह नेशनल हाई वे सड़क दिल्ली से असाम तक जाती है. यह सडक लखनऊ से गोरखपुर होते हुए गोपालगंज होकर गुजरती है. इस सड़क पर फोरलेन का कार्य लगभग सभी जगह पूरा हो गया है लेकिन गोपालगंज के बंजारी चौक से अरार मोड़ तक यह सड़क अभी भी निर्माणाधीन है. सड़क के इस हिस्से में फ्लाईओवर बनाने का कार्य चल रहा था लेकिन बाद में केन्द्रीय भूतल एवं सड़क राज्यमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने यहां एलिवेटेड कॉरिडोर बनाने की मंजूरी दी थी जिसके बाद फ्लाईओवर का कार्य पिछले दो साल से ठप्प हो गया है.

निर्माण कार्य ठप्प होने से होती है जाम की समस्या

फ्लाईओवर के कार्य ठप्प होने की वजह से गोपालगंज के बंजारी चौक से लेकर अरार मोड़ तक कई चौक है जहां अक्सर जाम की समस्या होती है. इसके साथ ही इस हिस्से में अक्सर सड़क दुर्घटना होते रहती है. जिसकी वजह से कई लोगों की मौत हो गई जबकि सैकड़ों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. इस खबर को NEWS 18 ने प्रमुखता से चलाया था. जिसके बाद गोपालगंज के स्थानीय सांसद ने इस मुद्दे को लोकसभा के शीतकालीन सत्र में उठाया और एनएच 28 के इस हिस्से को तत्काल मरम्मती कर दुरुस्त करने और फ्लाईओवर का निर्माण कार्य शुरू कर की मांग की है.

लोकसभा में बोले सांसद

सांसद ने लोकसभा में कहा की वे गोपालगंज संसदीय क्षेत्र से आते हैं जिसकी आबादी करीब 26 लाख है. ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर यानी एनएच 28 जो दिल्ली से चलकर असाम तक जाती है वो गोपालगंज शहर के बीचो बीच होकर गुजरती है को 36 महीने में पूरा करने का प्रस्ताव मंजूर था लेकिन जवाब मिलने के 06 माह बाद भी इस अधूरे कार्य को पूरा नहीं किया गया है. जिसकी वजह से शहर में आये दिन जाम की समस्या से लोगों को जूझना पड़ता है. इस जाम में बच्चे और मरीजों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है. इसलिए मंत्रालय के द्वारा इस अर्धनिर्मित कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाए.ये भी पढ़ें- PU छात्रसंघ चुनाव: JDU-ABVP को झटका, जन अधिकार पार्टी को मिला अध्यक्ष पद

ये भी पढे़ं- रेप की घटनाओं पर सवाल से कन्नी काट गए सुशील मोदी, राबड़ी-तेजस्वी ने कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 10:32 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर