लाइव टीवी

'अपमान' से आहत JDU सांसद ने विदेश मंत्री को लिखा पत्र, पढ़ें क्या है पूरा मामला

News18 Bihar
Updated: October 16, 2019, 2:00 PM IST
'अपमान' से आहत JDU सांसद ने विदेश मंत्री को लिखा पत्र, पढ़ें क्या है पूरा मामला
जेडीयू के सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन ने पासपोर्ट कार्यलय के उद्घाटन समारोह में प्रोटोकॉल के पालन नहीं करने का आरोप लगाते हुए विदेश मंत्री को पत्र लिखा है.

जेडीयू सांसद (JDU MP) डॉ आलोक सुमन ने कहा कि यह पूरी तरह सरकारी कार्यक्रम था. बावजूद इसके इस उद्घाटन समारोह में एक दल विशेष के लोगों को तरजीह दी गई.

  • Share this:
गोपालगंज. जनता दल यूनाइटेड के सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन (Dr Alok Kumar Suman) ने पटना के क्षेत्रीय पासपोर्ट पदाधिकारी पीएन सहाय के खिलाफ जहां विदेश मंत्री (foreign Minister) एस जयशंकर (S jayshankar) से लिखित शिकायत की है. वहीं, सांसद ने क्षेत्रीय पासपोर्ट पदाधिकारी पर उपेक्षा करने और प्रोटोकॉल (Protocol) के उल्लंघन करने का आरोप लगाया है. मामला गोपालगंज के पोस्ट ऑफिस परिसर में खुले पासपोर्ट सेवा केंद्र के उद्घाटन से जुड़ा हुआ है.

दरअसल, बीते 17 सितम्बर को गोपालगंज के पोस्ट ऑफिस परिसर स्थित पासपोर्ट सेवा केंद्र का उद्घाटन केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने किया था. इस दौरान गोपालगंज के स्थानीय सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन को न तो उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करने के लिए बुलाया गया और न ही उद्घाटन समारोह के लिए बनाए गए बैनर में कहीं स्‍थान दिया गया. इसी को लेकर जदयू सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन ने विदेश मंत्रालय से अवमानना की शिकायत दर्ज कराई है.

शिलापट्ट पर नाम न होने से आहत हुए जेडीयू सांसद
सांसद डॉ आलोक कुमार सुमन ने बताया कि गोपालगंज में पासपोर्ट कार्यालय कई माह पूर्व बनकर तैयार था, लेकिन इंफ्रास्ट्रक्चर के अभाव में यह कार्यालय शुरू नहीं हो सका था. उन्होंने कहा कि इस पासपोर्ट कार्यालय को अथक प्रयास से शुरू कराया गया, लेकिन 17 सितम्बर को जब पासपोर्ट कार्यालय का उद्घाटन हुआ तब बैनर में अध्यक्षता के लिए कहीं भी स्थानीय सांसद का नाम नहीं लिखा गया.

'जान बूझकर किया गया अपमानित'
जेडीयू सांसद ने कहा कि यह पूरी तरह सरकारी कार्यक्रम था. बावजूद इसके इस उद्घाटन समारोह में एक दल विशेष के लोगों को तरजीह दी गई. जबकि ऐसे कार्यक्रम का अध्यक्षता या उद्घाटन स्थानीय सांसद करते हैं. उनका आरोप है कि यहां के क्षेत्रीय पासपोर्ट पदाधिकारी द्वारा जानबूझकर उनकी उपेक्षा की गई. प्रोटोकॉल का ख्याल नहीं रखा गया और बैनर में कहीं भी उनका नाम नहीं लिखा गया.

दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई की मांग
Loading...

आलोक सुमन ने कहा कि जब उन्होंने इसको लेकर क्षेत्रीय पासपोर्ट पदाधिकारी से बात की तो उन्होंने जांच की बात कहने के बाद अब तक कोई ठोस जवाब नहीं दिया है. इसके बाद सांसद ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात कर उन्‍हें पूरे मामले की जानकारी दी और करवाई की मांग की है.

रिपोर्ट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 1:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...