होम /न्यूज /बिहार /

Bihar: गोपालगंज में किराना दुकानदार के अपहरण से सनसनी, बगीचे में मिली बाइक

Bihar: गोपालगंज में किराना दुकानदार के अपहरण से सनसनी, बगीचे में मिली बाइक

गोपालगंज में किराना दुकानदार का अपहरण किये जाने का मामला सामने आया है.

गोपालगंज में किराना दुकानदार का अपहरण किये जाने का मामला सामने आया है.

Bihar News: पुलिस ने अपहृत दुकानदार की बाइक लक्ष्मीपुर सड़क के पास बगीचे से बरामद की है. पुलिस ने बाइक की बरामदगी करने के बाद अपहृत किराना दुकानदार की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है. अपहरण करनेवाले लोग कौन हैं, घटना के पीछे वजह क्या है, इसका खुलासा नहीं हो सका है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

गोपालगंज में किराना दुकानदार का अपहरण किये जाने का मामला सामने आया है.
पुलिस ने अपहृत किराना दुकानदार की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है.
मधुकर की बाइक लक्ष्मीपुर सड़क किनारे बगीचे में लावारिस हालत में गिरी हुई मिली.

रिपोर्ट- गोविंद कुमार 
गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में किराना दुकानदार का अपहरण किये जाने का मामला सामने आया है. घटना विजयीपुर थाने के लक्ष्मीपुर बाजार की है. पुलिस ने अपहृत दुकानदार की बाइक लक्ष्मीपुर सड़क के पास बगीचे से बरामद की है. पुलिस ने बाइक की बरामदगी करने के बाद अपहृत किराना दुकानदार की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है. अपहरण करनेवाले लोग कौन हैं, घटना के पीछे वजह क्या है, इसका खुलासा नहीं हो सका है. अपहृत किराना दुकानदार विजयीपुर थाने के जगदीशपुर गांव निवासी अंगद वर्मा का 26 वर्षीय पुत्र मधुकर वर्मा है.

परिजनों ने बताया कि मधुकर वर्मा लक्ष्मीपुर बाजार में किराना की दुकान चलाते हैं. हर रोज घर से किराना दुकान खोलने जाते हैं और रात होने पर वापस घर लौट आते हैं. नौ अगस्त को भी दुकान बंद कर मधुकर वर्मा बाइक से घर लौट रहा था. रात के 10 बजे तक जब मधुकर घर नहीं लौटा तो परिजनों की बेचैनी बढ़ी और खोजबीन शुरू कर दिया. मधुकर के पिता अंगद वर्मा बेटे को ढूंढते-ढूंढते लक्ष्मीपुर तक पहुंचे और पुलिस को इसकी सूचना दी. इस दौरान रात में ही मधुकर की बाइक लक्ष्मीपुर सड़क किनारे बगीचे में लावारिस हालत में गिरी हुई मिली.

बाजार के दुकानदारों में दहशत का माहौल
बाइक मिलने के बाद परिजनों की बेचैनी और बढ़ गयी और इस मामले में अपहरण की प्राथमिकी थाने में दर्ज कराते हुए पुलिस से सकुशल बरामदगी की गुहार लगाई. विजयीपुर पुलिस ने अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करने के बाद कई बिंदुओं पर जांच पड़ताल करते हुए संभावित ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी है. पुलिस की अबतक की कार्रवाई में अपहृत किराना दुकानदार के बारे में कोई सुराग नहीं मिला है. इधर, घटना होने के बाद बाजार के दुकानदारों में दहशत का माहौल है. अपहृत मधुकर के घर पर चूल्हा तक नहीं जल रहा है. वहीं हथुआ अनुमंडल के एसडीपीओ नरेश कुमार ने कहा कि पुलिस टेक्निकल सेल की मदद से जांच कर रही है. आसपास के लोगों से भी पूछताछ की गई है. जल्द ही किराना दुकानदार को बरामद कर घटना का खुलासा किया जायेगा.

फिरौती के लिए तो नहीं हुआ अपहरण!

मधुकर किराना के बड़े दुकानदार हैं. इनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है. दो छोटे-छोटे बच्चे हैं. ऐसे में अपहरण के पीछे फिरौती की साजिश हो सकती है. हालांकि विजयीपुर पुलिस इस मामले में कुछ भी बोलने से परहेज कर रही है. पुलिस का कहना है कि किराना दुकानदार की बरामदगी होने के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा कि घटना के पीछे वजह क्या रही. फिलहाल पुलिस किराना दुकानदार को सकुशल बरामद करने में जुटी है.

पुलिस की गश्ती पर उठ रहे सवाल

जिस इलाके से किराना दुकानदार की बाइक मिली और अपहरण किये जाने की बात बताई जा रही, वह इलाका काफी संवेदनशील माना जाता है. ऐसे में इन इलाकों में पुलिस की गश्ती नहीं होना, बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है. एसपी आनंद कुमार ने क्राइम को रोकने के लिए सेक्टर पुलिस पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है, इसके अलावा डायल 112 भी गश्ती के लिए लगाये गये हैं, लेकिन इन तमाम पुलिस कर्मियों की सुरक्षा-व्यवस्था होने के बावजूद वारदात होना पुलिस के लिए चुनौती बन गया है.

Tags: Bihar News, Gopalganj news, Kidnapping Case

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर