लाइव टीवी

CAA-NRC पर समझाने पहुंचे वामपंथी नेता तो युवा बोले- मत कीजिए देश विरोधी काम, जानें क्या हुआ आगे...
Gopalganj News in Hindi

News18 Bihar
Updated: January 26, 2020, 11:01 AM IST
CAA-NRC पर समझाने पहुंचे वामपंथी नेता तो युवा बोले- मत कीजिए देश विरोधी काम, जानें क्या हुआ आगे...
सीएए और एनआरसी का विरोध करने पर वामपंथी नेता को युवाओं के आक्रोश का सामना करना पड़ा.

भाकपा-माले के वरिष्‍ठ नेता विद्या सिंह ने खुद वीडियो को सही बताया है. इस वीडियो में युवक यह बोलते हुए नजर आ रहे हैं कि वे CAA और NRC का समर्थन करते हैं और वह यहां से चले जाएं.

  • Share this:
गोपालगंज. वामपंथी नेता को सीएए और एनआरसी (CAA and NRC) का विरोध करना उस वक़्त महंगा पड़ गया, जब वे जनजागरुकता अभियान के तहत गांव-गांव जाकर लोगों को सीएए और एनआरसी के विरोध के बारे बता रहे थे. इसी अभियान के दौरान गांंव के कुछ युवकों ने इस वामपंथी नेता को वापस जाने को कहा. जब युवाओं के विरोध के बावजूद ये नेता लोगों को समझाने लगे तो युवकों ने उन्हें खदेड़ दिया.

वामपंथी नेता को वापस खदेड़ने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें युवक ये बोलते हुए नजर आ रहे हैं कि वे सीएए और एनआरसी का समर्थन करते हैं. यहां नेताजी देश-विरोधी काम न करें और वापस लौट जाएं. बताया जाता है कि यह वीडियो 16 जनवरी का है और इस वीडियो में जिस नेता का विरोध कर उन्हें खदेड़ा जा रहा है, उनका नाम विद्या सिंह कुशवाहा है. वह भाकपा-माले के गोपालगंज इकाई के वरिष्ठ नेता हैं.

...जब युवाओं से हुई तकरार
वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि जब भाकपा-माले के नेता विद्या सिंह जनजागरुकता अभियान रथ को लेकर कुचायकोट के बघउच मोड़ पहुंचकर वहां माइक से लोगों को सीएए और एनआरसी के विरोध में कुछ बता रहे हैं. उसी वक्‍त कुछ युवक उनके पास आ जाते हैं और उन्हें सीएए और एनआरसी का समर्थन करने की बात कहते हुए वापस चले जाने की बात कहते हैं. युवाओं के विरोध के बाद भी जब नेताजी वापस नहीं जाते हैं, तब युवाओं का गुस्सा भड़क जाता है और नेताजी को देश-विरोधी काम न करने का हवाला देते हुए उनके माइक को बंद कर जल्द वापस लौटने को बोलते हैं. युवाओं के गुस्से को देखते हुए नेताजी को समय से पहले जाना पड़ा.

भाकपा-माले नेता ने वीडियो को बताया सही
करीब एक मिनट 07 सेकंड के इस विडियो को सोशल मीडिया में खूब शेयर किया जा रहा है और देश विरोधियों का ऐसे ही जवाब देने का अपील की जा रही है. इस वायरल वीडियो के बारे में जब भाकपा-माले के नेता विद्या सिंह से बात की गई तो उन्होंने इसको सही बताया.

ये भी पढ़ें


लालू के 'ब्रह्म बाबा' खुद को RJD का 'मुख्य अतिथि' क्यों मानने लगे?




पद्म पुरस्कार मिलने पर बिहार की इन हस्तियों ने जताई खुशी, CM नीतीश ने दी बधाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 10:39 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर