Home /News /bihar /

गोपालगंज: शराबबंदी पर बुलाई बैठक में आपस में भिड़े JDU नेता, नीतीश सरकार के मंत्री ने खत्म कराया विवाद

गोपालगंज: शराबबंदी पर बुलाई बैठक में आपस में भिड़े JDU नेता, नीतीश सरकार के मंत्री ने खत्म कराया विवाद

बिहार में शराबबंदी के 5 वर्ष होने पर बुलाई गई बैठक में वरिष्ठता को लेकर जेडीयू के पूर्व जिला अध्यक्ष और पार्टी के उपाध्यक्ष सबके सामने आपस में भिड़ गए

बिहार में शराबबंदी के 5 वर्ष होने पर बुलाई गई बैठक में वरिष्ठता को लेकर जेडीयू के पूर्व जिला अध्यक्ष और पार्टी के उपाध्यक्ष सबके सामने आपस में भिड़ गए

Bihar News: प्रदेश में शराबबंदी के पांच साल पूरा होने पर बुलाई गई बैठक में जेडीयू के पूर्व जिला अध्यक्ष और उपाध्यक्ष वरिष्ठता को लेकर आपस में उलझ पड़े. मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार के सामने अपने नेताओं को यूं लड़ता देख उनके समर्थक भी हंगामा पर उतारू हो गए. माहौल को बिगड़ता देख मंत्री सुनील कुमार को खड़े होकर दोनों नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को समझाना पड़ा

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) में जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) की बैठक में जमकर हंगामा हुआ. इस दौरान देखते ही देखते दो नेता आपस में भिड़ गये जिससे बैठक में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल हो गया. हालांकि बाद में बिहार सरकार (Bihar Government) के मंत्री सुनील कुमार (Sunil Kumar) ने दोनों नेताओं को समझा-बुझा कर शांत करा दिया. दरअसल राज्य में शराबबंदी (Liquor Ban In Bihar) के पांच साल पूरे होने पर मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार रविवार को जेडीयू जिला कार्यालय में पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे. इस दौरान जेडीयू के पूर्व जिला अध्यक्ष प्रमोद कुमार पटेल और जेडीयू के उपाध्यक्ष राघो सिंह वरिष्ठता को लेकर आपस में भिड़ गये.

देखते ही देखते मंत्री के सामने दोनों नेताओं के समर्थक भी हंगामा पर उतारू हो गए. दोनों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए पार्टी फोरम से कार्रवाई की मांग की. माहौल को बिगड़ता देख मंत्री सुनील कुमार को खड़े होकर दोनों नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को समझाना पड़ा.

इस पूरे मामले पर मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार ने कहा कि संगठन में जब लोग खुले रूप से अपना विचार रखते हैं तो उसमें मतभेद होता है और उंची आवाजें सुनाई देती हैं. लेकिन फिर समझाने-बुझाने पर लोग अपनी वाणी पर संयम रखते हैं. उन्होंने कहा कि नेता और कार्यकर्ता पुलिस फोर्स की तरफ डिसिप्लीन में नहीं होते, सबको अपनी बात रखने की स्वतंत्रता है.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून को हुए पांच साल पूरे हो गए हैं. अब तक 215 पुलिस अफसरों और 15 उत्पाद अधिकारियों को बर्खास्त किया गया है, साथ ही कई पर जांच चल रही है. मंत्री सुनील कुमार ने यह भी कहा कि गड़बड़ी करनेवालों पर पैनी नजर रखी जा रही है. बिहार में 17 ड्रोन टीमें चला रहीं शराब के खिलाफ अभियान. ड्रोन की सफलता देख कर बढ़ायी जायेगी और टीमें. राज्य की सभी सीमाओं पर दो माह में लगाए जाएंगे ट्रक स्कैनर मशीन.

Tags: Bihar News in hindi, Gopalganj news, Jdu, Liquor, Liquor Ban

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर