Home /News /bihar /

liquor well found in bihar know smugglers rare and stunning way to smuggle alcohol nodmk3

बिहार में मिला शराब का 'कुआं', धंधेबाजों के तरीके जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

बिहार के गोपालगंज में तस्‍करों ने शराब को छुपाने के लिए बकायदा कुआं बना डाला था. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

बिहार के गोपालगंज में तस्‍करों ने शराब को छुपाने के लिए बकायदा कुआं बना डाला था. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Liquor Smuggling Case: बिहार में सख्‍त शराबबंदी कानून लागू है. इसके बावजूद प्रदेश में शराब की तस्‍करी लगातार हो रही है. पुलिस-प्रशासन भी तस्‍करों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रहे हैं. गोपालगंज में शराब की तस्‍करी करने का अनूठा तरीका सामने आया है. इसे देखकर आमलोंगों के साथ पुलिस भी भौंचक्‍की रह गई.

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. ब‍िहार में सख्‍त शराबबंदी कानून लागू होने के बावजूद तस्‍करों के हौसले बुलंद हैं. लगातार कार्रवाई के बाद भी दारू की तस्‍करी हो रही है. शराब तस्‍कर नए तरीके अपनाकर काले धंधे को अंजाम दे रहे हैं. गोपालगंज में शराब तस्‍करी का एक ऐसा ही मामला सामने आया है. तस्‍करों के तरीके को देखकर आमलोगों के साथ ही पुलिस की आंखें भी फटी की फटी रह गईं. किसी को यह विश्‍वास नहीं हुआ कि शराब की तस्‍करी और काला धंधा करने के लिए इस तरह का तरीका भी अपनाया जा सकता है. स्‍थानीय पुलिस ने कुएं के आकार में बने बड़े से गड्ढे से शराब बरामद की है.

शराबबंदी कानून वाले बिहार में शराब तस्करों की भट्ठियां तो आपने खूब देखी होंगी, लेकिन आपने कभी शराब का कुआं देखा है? आज हम आपको शराब का कुआं दिखाने जा रहे हैं. गोपालगंज में शराब तस्कर इन दिनों ड्रोन से बचने के लिए शराब की भट्ठियां चलाने का तरीका बदल दिया है. मद्य निषेध विभाग और पुलिस की संयुक्त छापेमारी में इसका खुलासा हुआ है. आसमान में उड़ रही ड्रोन से शराब के उन ठिकानों को ढूंढ़ा जा रहा है, जहां पुलिस नहीं पहुंच पाती है. बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के बंगरा घाट, फैजुल्लाहपुर और सलेमपुर नक्सली प्रभावित इलाके हैं. लिहाजा बड़ी संख्या में पुलिसबल शराब के ठिकानों पर छापेमारी की.

Bihar Liquor Smuggling

गोपालगंज के नक्सल प्रभावित बंगरा और फैजुल्लाहपुर में सर्च ऑपरेशन चलाती पुलिस. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

ड्रोन की मदद
ड्रोन से चिह्नित ठिकानों पर जब पुलिस टीम पहुंची तो वहां का नजारा देखकर हैरान रह गई. दरअसल, यहां एक-दो नहीं, बल्कि 10 हजार किलो गुड़ का पाश मिला. शराब तस्करों ने इसे कुआंनुमा गड्ढे में छुपा रखा था. गलती से कोई जानवर या इंसान शराब के इस कुएं में गिर गया, तो उसका बच पाना मुश्किल है. इसे देखकर पुलिस और उत्‍पाद विभाग के अधिकारी और पुलिस भी हैरत में पड़ गई.

जानें क्‍या-क्‍या बरामद हुआ?
उत्पाद अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि पुलिस टीम और मद्य निषेध विभाग की संयुक्त छापेमारी में शराब की दो भट्ठियां, शराब बनाने वाले उपकरण, गैस सिलेंडर, 200 लीटर चुलाई शराब और 10 हजार किलो गुड़‍ का पाश बरामद किया गया. बाद में इसे जब्‍त कर नष्ट कर दिया गया. हालांकि, शराब तस्कर कार्रवाई की भनक लगते ही भाग चुके थे. सलेमपुर दियरा में एक सप्ताह में उत्पाद विभाग की यह तीसरी कार्रवाई है. बड़ा सवाल यह है कि जब पुलिस टीम और उत्पाद विभाग शराब की भट्ठियों को ध्वस्त करके आती है तो फिर अगले दिन कैसे शराब माफिया नये भट्ठियों को चालू कर देते हैं?

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Liquor Ban

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर