गोपालगंज: ब्लैकलिस्टेड हुआ महिला अल्पावास गृह को चलाने वाला NGO

इसमें से दो लड़कियां पिछले साल 06 अक्टूबर को लापता हो गयी थी. इसके बाद एनजीओ प्रबंधन और जिला प्रशासन के द्वारा कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गयी.

News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 10:24 AM IST
गोपालगंज: ब्लैकलिस्टेड हुआ महिला अल्पावास गृह को चलाने वाला NGO
गोपालगंज: ब्लैक लिस्टेड हुआ महिला अल्पावास गृह को चलाने वाला NGO
News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 10:24 AM IST
गोपालगंज में महिला अल्पावास गृह को चलाने वाले एनजीओ इकार्ड (इंस्टिट्यूट ऑफ खादी एग्रीकल्चर एंड रिसर्च डेवलपमेंट) को ब्लैकलिस्टेड कर दिया गया है. इसके साथ गोपालगंज महिला अल्पावास गृह को बंद कर सभी महिला संवासिनी को सीवान महिला अल्पावास गृह में सुरक्षित शिफ्ट कर दिया गया है.

मामला गोपालगंज के सरेया मोहल्ले का है. News18 की खबर का बड़ा असर हुआ है. यहां संचालित इस महिला अल्पवास गृह की देखरेख की जिम्मेवारी छपरा की एनजीओ इकार्ड को सौंपी गयी थी. यहां एनजीओ के लापरवाही की वजह से कई बार लड़कियां भाग गई. इसमें से दो लड़कियां पिछले साल 06 अक्टूबर को लापता हो गयी थी. इसके बाद एनजीओ प्रबंधन और जिला प्रशासन के द्वारा कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गयी.

नौ महीने के बाद इस मामले में नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर एनजीओ के खिलाफ यह बड़ी कारवाई की गई है. साथ ही एनजीओ को संचालित करने वाले सभी कर्मियों की सेवा समाप्त कर दी गयी है.

प्रभारी डीएम दयानंद मिश्रा ने बताया कि सभी महिला संवासिनी को सीवान अल्पवास गृह में शिफ्ट कर दिया गया. संवासिनी को कड़ी सुरक्षा के बीच गोपनीय तरीके से सीवान ले जाया गया. साथ ही एनजीओ इकार्ड को महिला विकास निगम की ओर से भी ब्लैकलिस्टेड कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें - 

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केसः सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को छोड़ा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर