गोपालगंज में महिला की निर्मम हत्या, दो दिनों तक घर में बंद रही लाश

अज्ञात अपराधियों द्वारा पहले महिला की गला दबाकर हत्या की गयी और हत्या के बाद उनके गर्दन को सब्जी काटने वाले धारदार पह्सुल (स्थानीय शब्द) से काट दिया गया.

Mukesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: February 15, 2018, 10:24 AM IST
गोपालगंज में महिला की निर्मम हत्या, दो दिनों तक घर में बंद रही लाश
स्थानीय थाना
Mukesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: February 15, 2018, 10:24 AM IST
बिहार के गोपालगंज में 50 वर्षीय महिला की निर्मम हत्या कर दी गयी. हत्या के बाद अपराधी महिला के शव को उसके घर में छोड़कर फरार हो गए. इसकी जानकारी पड़ोसियों को घटना के दो दिन बाद लगी.

घटना जिले के विजयीपुर के सहडिग्री गांव की है. मृतक महिला का नाम सुनीता तिवारी है वो विजयीपुर के तारकेश्वर उपाध्याय की पत्नी थीं. जानकारी के मुताबिक सुनीता तिवारी अपने पैतृक घर में अकेले ही रहती थी. मृतका का बेटा नौकरी के सिलसिले में बाहर काम करता है.

वो पिछले दो दिनों से अपनी मां के मोबाइल पर लगातार कॉल करता था लेकिन उसकी बात अपनी मां से नहीं हो पाई. फिर मृतका के बेटे ने अपने पड़ोसियों से मां से बात कराने की बात कही जिसके बाद पड़ोसी जैसे घर में घुसे उन्हें महिला का शव और आसपास खून के निशान मिले.

मृतका के देवर राजेश्वर उपाध्याय के मुताबिक मृतक महिला उनकी भाभी हैं जो घर में अकेली रहती थी. अज्ञात अपराधियों द्वारा पहले गला दबाकर हत्या की गयी और हत्या के बाद उनके गर्दन को सब्जी काटने वाले धारदार पह्सुल (स्थानीय शब्द) से काट दिया गया.

हत्या की सूचना बुधवार को ग्रामीणों ने विजयीपुर पुलिस को दी. पुलिस ने मौके से शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है साथ ही पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है.
महिला की हत्या की वजह क्या है अभी तक इसका खुलासा नहीं हो पाया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर