अपना शहर चुनें

States

Lockdown: शर्मनाक! अस्पताल जा रहे घायलों को बाइक से उतारा, फिर मुर्गा बनाया और मेंढक की तरह चलवाया

लॉकडाउन के दौरान गोपालगंज में पुलिस बर्बरता के शिकार हुए युवक
लॉकडाउन के दौरान गोपालगंज में पुलिस बर्बरता के शिकार हुए युवक

Lockdown के दौरान बाइक पर सवार एक युवक का सिर फटा हुआ था. उसके सिर पर बैंडेज बंधा हुआ था और खून के धब्बे भी नजर आ रहे थे, जबकि दूसरे युवक के पैर का अंगूठा कटा हुआ था. उसके पैर के अंगूठे में गहरे जख्म थे और बैंडेज भी बंधा हुआ था.

  • Share this:
गोपालगंज. लॉकडाउन ( Lockdown) के दौरान नगर थाना पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है. यहां शहर के बंजारी चौक पर तैनात पुलिस के एक जवान ने अस्पताल जा रहे घायल युवकों को बाइक से उतार कर पहले उन्हें मुर्गा बनने को मजबूर किया और फिर उन्हें मेंढक की तरह कुछ दूर तक चलवाया. इस दौरान पीड़ित लड़के उस पुलिसवाले से गुहार लगाते रहे, अस्पताल जाने देने की मिन्नत करते रहे, पर पुलिसवाले ने एक नहीं सुनी और घायल युवकों को मेंढक की तरह कुछ दूर तक चलवाया. मामला नगर थाना के बंजारी चौक का है.

दो घायलों को अस्पताल ले जा रहा था बाइक वाला
दरअसल, सोमवार को बंजारी गांव से बाइक पर सवार होकर तीन युवक बंजारी चौक पहुचे. एक युवक का सिर फटा हुआ था. उसके सिर पर बैंडेज बंधा था और खून के धब्बे भी नजर आ रहे थे, जबकि दूसरे युवक के पैर का अंगूठा कटा हुआ था. अंगूठे का जख्म गहरा होने की वजह से वहां बैंडेज बंधा था. वह ठीक से खड़ा भी नहीं हो पा रहा था. वहीं, एक युवक बिल्कुल स्वस्थ था और वही बाइक चला रहा था.

मुर्गा बनवाया और मेंढक स्टाइल में चलवाया
बताया जा रहा है कि तीनों बाइक सवार युवक जैसे ही बंजारी चौक पहुचे. वहां ड्यूटी पर तैनात पुलिसवाले ने उन्हें बाइक से उतारा और उसके बाद उन्हें मुर्गा बनने का फरमान सुनाया. मुर्गा बनने के बाद उन्हें मेंढक की तरह कुछ दूर तक चलवाया. अंगूठे के जख्म की वजह से एक युवक चल भी नहीं पा रहा था.



गोपालगंज में अस्पताल जा रहे घायल युवकों को पुलिसवाले ने मुर्गा बनवाया और मेंढक की तरह चलवाया.


लॉकडाउन के दौरान भी इन्हें मिली है छूट
दरअसल कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) है. इसे सख्ती से पालन कराने के लिए गोपालगंज में भी जगह-जगह विभिन्न चौक-चौराहों पर पुलिस जवान और मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं. लेकिन इस लॉकडाउन में वैसे लोगों को छूट दी गई है जो मरीज हों और अस्पताल जा रहे हों. अपनी दैनिक जरूरत के सामान की खरीदारी करने और बैंक से संबंधित काम करने के लिए लोग बाहर निकल सकते हैं.

बहरहाल तीनों युवकों को सजा देने के बाद पुलिसवाले ने उन्हें अस्पताल जाने दे दिया. जबकि चोट से कराह रहे युवक पुलिस से लगातार छोड़ देने की गुहार लगाते रहे, लेकिन उनकी उसने नहीं सुनी.

(रिपोर्ट- मुकेश कुमार)

ये भी पढ़ें :-

Bihar COVID-19 UPDATE: पॉजिटिव केस की संख्या 16 हुई, जानें कहां कितने संदिग्ध
Lockdown UPDATE: 399 लोगों पर FIR दर्ज, अबतक 5, 388 गाड़ियां जब्त
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज