लाइव टीवी

बिहारः इलाज के नाम पर झोलाछाप डॉक्टर ने ठग लिए 12 हजार रुपए, मरीज की मौत होते ही हो गया फरार

Mukesh Kumar | News18 Bihar
Updated: November 14, 2019, 9:26 PM IST
बिहारः इलाज के नाम पर झोलाछाप डॉक्टर ने ठग लिए 12 हजार रुपए, मरीज की मौत होते ही हो गया फरार
गोपालगंज में झोलाछाप डॉक्टर ने इलाज के नाम पर ठगे हजारों रुपए.

बिहार (Bihar) के गोपालगंज (Gopalganj) में ग्रामीण डॉक्टर (Quack) ने इलाज के नाम पर पहले मरीज के परिजनों से हजारों रुपए ऐंठ लिए. महिला मरीज की मौत होते ही भाग निकला आरोपी. पुलिस (Gopalganj Police) ने आरोपी और उसके कंपाउंडर को किया गिरफ्तार.

  • Share this:
गोपालगंज. जिले में मोहम्मदपुर स्थित एक महिला मरीज के परिजनों से इलाज के नाम पर झोलाछाप डॉक्टर (Quack) ने हजारों रुपए ऐंठ लिए. इलाज के दौरान जब महिला मरीज की जान नहीं बचाई जा सकी, तो आरोपी वहां से भाग निकला. मरीज के परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस (Gopalganj Police) ने बाद में आरोपी झोलाछाप डॉक्टर और उसके कंपाउंडर को गिरफ्तार कर लिया. घटना गोपालगंज (Gopalganj) के मोहम्मदपुर बाजार की है. मृतक महिला मरीज का नाम बबीता देवी (40 साल) था. वह सिधवलिया के दंगसी गांव की रहने वाली थी.

पथरी की शिकायत पर आई थी इलाज कराने
मरीज के परिजनों के मुताबिक बबीता को गर्भाशय में पथरी की वजह से दर्द होता था. इसी का इलाज कराने वह आरोपी डॉक्टर के मोहम्मदपुर बाजार में स्थित निजी क्लीनिक में आई थी. यहां आरोपी डॉक्टर और उसके कंपाउंडर ने मरीज को खून चढ़ाने की जरूरत बताई. ब्लड जांच के बाद डॉक्टर ने परिजनों से 300 एमएल ब्लड चढ़ाने के एवज में 12 हजार रुपए की मांग की. परिजनों के पैसे देने के बाद मरीज को ब्लड चढ़ाया गया. लेकिन कुछ ही देर बाद मरीज की हालत बिगड़ने लगी. इसके बाद शातिर आरोपियों ने मरीज के परिजनों से कहा कि महिला को बेहतर इलाज के लिए मोतिहारी रेफर करना पड़ेगा. परिजन इसके लिए तैयार हो गए और मरीज को ले जाने के लिए वाहन मंगाया गया.

परिजनों की शिकायत पर हुआ गिरफ्तार

गोपालगंज से रेफर करने के बाद मरीज और उसके परिजनों के साथ आरोपी डॉक्टर भी मोतिहारी पहुंचा. लेकिन जैसे ही सभी लोग मोतिहारी के अस्पताल में पहुंचे, आरोपी डॉक्टर वहां से भाग निकला. मोतिहारी में महिला मरीज की मौत के बाद उसके परिजनों ने वापस आकर मोहम्मदपुर पुलिस को आरोपी डॉक्टर और उसके कंपाउंडर की कारस्तानी बताई. परिजनों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी डॉक्टर और उसके कंपाउंडर को गिरफ्तार किया. पुलिस ने घटना की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

ये भी पढ़ें -

स्मृति शेष : भिखारी बन भटके थे गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण, मौत के बाद एंबुलेंस भी नसीब नहीं हुई
Loading...

नवजातों की देखभाल करेगी बिहार सरकार, हर जिले के अस्पतालों में बनेगा न्यू बॉर्न केयर यूनिट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 9:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...