VIDEO: गंडक में अचानक आया सैलाब तो झोपड़ी के ऊपर मंझधार में 5 दिन फंसा रहा युवक, ऐसे बची जान
Gopalganj News in Hindi

VIDEO: गंडक में अचानक आया सैलाब तो झोपड़ी के ऊपर मंझधार में 5 दिन फंसा रहा युवक, ऐसे बची जान
गंडक की तेज धार में फंसे युवक का रेस्क्यू किया गया.

बाढ़ (Flood) में फंसे युवक का एक वीडियो (Video) सामने आया है जिसमें देखा जा सकता है कि चारों तरफ पानी ही पानी है और वह युवक अपनी झोपड़ी पर गंडक (Gandak) की तेज धार के बीच 05 दिनों से शरण लिए हुए था.

  • Share this:
गोपालगंज. सदर प्रखंड क्षेत्र में तटबंधों के अन्दर बसे गांवों में हर तरफ तबाही का मंजर है. सैकड़ों झोपड़ियां और पक्के मकान नदी के गर्भ में समा गए हैं. गंडक नदी (Gandak River) में अचानक आये सैलाब (Flood) ने देखते ही देखते एक साथ कई घरों को डुबो दिया. जब तक लोग संभल पाते तब तक बहुत देर हो चुकी थी. लोगों के कीमती सामान से लेकर उनके खाने पीने का सब सामान गंडक में विलीन हो गए. इस त्रासदी के बीच स्थानीय युवक और कटघरवा पंचायत के मुखिया ने एक ऐसे युवक को गंडक की तेज धारा से बाहर निकाला जो पिछले 05 दिनों से मंझधार में फंसा हुआ था. अचानक आई बाढ़ के बीच फंसे युवक का एक वीडियो (Video) भी सामने आया है जो इस भयावह मंजर की कहानी कहता है.

तेज धारा के बीच 05 दिन फंसा रहा युवक

दरअसल चारों तरफ पानी ही पानी था और वह युवक अपनी झोपड़ी पर 05 दिनों से शरण लिए हुए था. कटघरवा पंचायत के मुखिया राजेश कुमार सहनी के मुताबिक वे अपने पास एक नाव में जेनेरेटर लगाकार गंडक की धारा में अन्दर जा रहे थे. इसी क्रम में वे अपनी नाव से कटघरवा, मकसूदपुर, हीरा पाकड़, जगरीटोला और बाढ़ से घिरे दूसरे गांवों का जायजा ले रहे थे. इसी दौरान गंडक की बीच मंझदार में एक युवक लगातार मदद की गुहार लगा रहा था. वह लड़का लगातार चिल्ला रहा था की मुखिया जी हमें भी बचा लीजिये.




भूखे-प्यासे किसी तरह पांच दिन बिताए

वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे चारों तरफ से यह झोपड़ी पानी में डूबा हुआ है और इसी झोपड़ी पर एक लड़का महज एक गमछा पहनकर खड़ा हो कर लगातार चिल्ला रहा है. लड़का बता रहा है कि वह 05 दिनों से ऐसे ही झोपडी पर दिन काट रहा है, लेकिन कोई मदद के लिए नहीं आया था. वह अपने पास में रखे में चूड़ा और गुड़ खाकर किसी तरह जिन्दा है. मुखिया नाव से वे उस झोपडी के पास पहुंचे और लड़के को नाव पर बैठा कर उसे जगरीटोला स्थित राहत शिविर में पहुंचाया गया.

मुखिया ने अब तक 250 लोगों का रेस्क्यू किया

इस विडियो को देखने से यह भी लग रहा है कि अगर समय पर इस लड़के को मदद नहीं मिलती तो शायद यह लड़का गंडक की तेज धारा में बह जाता. बता दें कि मुखिया राजेश सहनी वहां फंसे कई लोगों को बाहर निकालने में मदद कर रहे हैं. उनका कहना है कि वे अबतक 250 से ज्यादा लोगो को उनके घर से बाहर निकाल कर तटबंध पर सुरक्षित पहुंचा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज