मच्छर भगाने वाली क्वायल बनी 'काल', 3 बच्चों की झुलसकर मौत, दो की हालत गंभीर

शुक्रवार की रात सुगन्ती देवी पति हरेंद्र रावत अपने बच्चों के साथ एक झोपड़ी में क्वायल जलाकर सो रही थी. इसी दौरान झोपड़ी में क्वायल से आग पकड़ लिया.

News18 Bihar
Updated: March 16, 2019, 12:28 PM IST
मच्छर भगाने वाली क्वायल बनी 'काल', 3 बच्चों की झुलसकर मौत, दो की हालत गंभीर
गोपालगंज में तीन बच्चों की झुलसकर मौत
News18 Bihar
Updated: March 16, 2019, 12:28 PM IST
गोपालगंज शहर के हजियापुर वार्ड नंबर 11 में मच्छर भागने वाली अगरबत्ती के जलने से लगी आग की घटना में पांच लोग जिन्दा झुलस गए. जिसमें तीन बच्चों की जिन्दा जलने से दर्दनाक मौत हो गई. अभी भी दो की हालत चिंताजनक बनी हुई है।.मां और अन्य एक बहन भी बुरी तरह से झुलस गई. घटना के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया है.

मिली जानकारी के अनुसार नगर थाना क्षेत्र के हजियापुर मोहल्ले में वार्ड नम्बर 08 दलित बस्ती के निवासी दिनेश मांझी की बहन बेतिया जिले के नौतन थाना के  मझवालिया गांव से आई हुई थी. शुक्रवार की रात सुगन्ती देवी पति हरेंद्र रावत अपने बच्चों के साथ एक झोपड़ी में क्वायल जलाकर सो रही थी. इसी दौरान  झोपड़ी में क्वायल से आग पकड़ लिया.

ये भी पढ़ें-  राजस्थान सोना लूटकांड में शामिल 3 अपराधी एनकाउंटर में ढेर, दो AK-47 रायफल बरामद



आग इतनी फैल गई कि इसमें मां के साथ सभी बच्चे घिर गए.  झोपड़ी में सोए सभी बच्चे बुरी तरह से झुलस गए. इसमें 04 वर्षीय जीतन मांझी की मौत मौके पर हो गई. जबकी डेढ़ वर्षीय सुरज अस्पताल आते-आते दम तोड़ दिया. वहीं आज तड़के 06 वर्षीय सनी की भी इलाज के दौरान मौत हो गयी. मनीषा  की हालात  गंभीर बनी हुई है.

ये भी पढ़ें- अर्धसैनिक बलों के लिए बनाए जा रहे कैम्प पर नक्सली हमला, स्कूल बिल्डिंग में लगाई आग

झुलसे हुए सभी लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. घटना के बाद सभी वरीय पदाधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए हैं. अस्पताल में लोगों का ताता लगा हुआ है.

नगर थाना के एएसआई सुरेश प्रसाद सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है कि आखिर आग कैसे लगी. जिसमें 05 लोग झुलस गए.
Loading...

रिपोर्ट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें - 
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...