• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Gopalganj News: बिहार में पैक्स चुनाव नामांकन प्रक्रिया खत्‍म, प्रत्‍याशियों में रस्‍साकशी शुरू

Gopalganj News: बिहार में पैक्स चुनाव नामांकन प्रक्रिया खत्‍म, प्रत्‍याशियों में रस्‍साकशी शुरू

गोपालगंज में प्राथमिक कृषि साख समिति यानी पैक्स (PACS) चुनाव का नामांकन संपन्न हो गया है.

गोपालगंज में प्राथमिक कृषि साख समिति यानी पैक्स (PACS) चुनाव का नामांकन संपन्न हो गया है.

पैक्स (PACS) चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया समाप्‍त हो चुकी है. प्रशासन जहां चुनाव तैयारियों में जुटा है, वहीं प्रत्‍याशियों के बीच मुकाबला भी तेज हो गया है.

  • Share this:

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में प्राथमिक कृषि साख समिति (Primary Agricultural Credit Society) यानी पैक्स (PACS) के चुनाव को लेकर नामांकन पत्र संपन्न हो गया है. अब जिला प्रशासन ने पैक्स चुनाव का मतदान कराने को लेकर तैयारी शुरू कर दी है. कुचायकोट प्रखंड के बड़हड़ा पैक्स अध्यक्ष पद के लिए राजनीतिक रस्साकसी शुरू हो गयी है. यहां पैक्स अध्यक्ष के चुनाव में सिर्फ दो ही उम्मीदवार है. यह पैक्स अध्यक्ष पद का चुनाव इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यहां वर्तमान में पैक्स अध्यक्ष महेश राय है. महेश राय गोपालगंज जिला सहकारिता बैंक के कई वर्षो से निदेशक हैं. वह बिस्कोमान पटना और कृभको नयी दिल्ली के भी अध्यक्ष हैं.

बड़हड़ा पैक्स अध्यक्ष पद के प्रत्याशी राजेश पासवान ने कुचायकोट बीडीओ और डीएम को पत्र लिखकर महेश राय का नामांकन रद्द करने और उनके घर के बगल में बने मतदान केंद्र को बदलने की मांग की है. पैक्स प्रत्याशी राजेश पासवान के मुताबिक वर्तमान पैक्स अध्यक्ष महेश राय के ऊपर पूर्व में लाखो रूपये के गबन का आरोप है. प्रत्याशी राजेश पासवान के मुताबिक, पैक्स चुनाव नियमावली के तहत गबन के आरोपी या जिसके ऊपर पैक्स का एक भी पैसा बकाया है. वे चुनाव नहीं लड़ सकते है. उनका नामांकन रद्द हो जायेगा.

इसके साथ पैक्स अध्यक्ष या प्रत्याशी के घर के सौ मीटर के दायरे में मतदान केंद्र भी नहीं बनाया जा सकता है, लेकिन कुचायकोट बीडीओ के द्वारा नियमों को ताक पर रखकर गबन के मामले होने के बाद भी उनका नामांकन रद्द नहीं किया गया. जबकि वर्तमान पैक्स अध्यक्ष के घर पास में बने मतदान केंद्र को भी नहीं बदला गया है. जिसकी वजह से यहां मतदान प्रभावित होगा. दबंगों के डर की वजह से यहां लोग मतदान करने से डरेंगे.

हालांकि, कुचायकोट के बीडीओ वैभव शुक्ला ने कहा की उनके पास भी नामांकन रद्द करने और मतदान केंद्र बदलने का आवेदन दिया गया था. इसके आलोक में घर के बगल में बने मतदान केंद्र को बदल दिया गया है. अब घर से करीब 150 मीटर दूर प्राइमरी स्कूल गोपालपुर में मतदान केंद्र बनाया गया है. वहीं, बीडीओ ने कहा की गबन के मामले में आरोप साबित नहीं हुआ है. पटना हाई कोर्ट के 2014 के आदेश के आलोक में उनका नामांकन रद्द नहीं किया गया है. बीडीओ वैभव शुक्ला ने किसी भी तरह के नियमों का उल्लंघन न करने की बात कही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन