Assembly Banner 2021

बिहार में पानी भरते ही जमीन पर आ गिरी नीतीश कुमार के नलजल योजना की टंकी

बिहार के गोपालगंज में गिरी नल जल योजना की टंकी

बिहार के गोपालगंज में गिरी नल जल योजना की टंकी

Nal Jal Yojna Scam: बिहार के गोपालगंज में हुई इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है. ग्रामीणों का आरोप है कि इस योजना में काफी अनियमितता बरती गई है.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार में नलजल योजना (Nal Jal Scheme) में धांधली की तस्वीरें लगातार सामने आ रही हैं. ताजा मामला बरौली के देवापुर पंचायत के वार्ड नम्बर 06 का है जहां निर्माण के बाद पानी सप्लाई के लिए जैसे ही पानी भरा गया यहां दस-दस हजार लीटर की दो टंकी (Water Tank) टावर के बेस के टूटने से अचानक तेज धमाके से जमीन पर गिर गई. ध्वस्त टंकी का वीडियो लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर कर शुरू कर दिया है.

स्थानीय लोगों के मुताबिक मामला बीती रात करीब साढ़े 9 बजे का है जब तेज धमाके के साथ इस टावर पर रखे दो पानी टंकी जमीन पर गिर गए. जमीन पर गिरते ही आसपास के मकानों में भी दरारें आ गईं. जानकारी के मुताबिक बरौली प्रखंड के देवापुर पंचायत के वार्ड नम्बर 06 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तह नलजल का कार्य कराया जा रहा है. पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि और मुखिया इंदु देवी के बेटे नन्हे सिंह ने बताया की यहां वार्ड नम्बर 06 में करीब तेरह लाख रूपये की लागत से नलजल का कार्य कराया जा रहा है.

अभी यह कार्य निर्माणाधीन है. यहां एक दिन पहले ही टावर पर दो टंकी रखकर उसमे पानी भरकर चेक किया गया था लेकिन रिटर्निंग पाइप नहीं लगाया गया था. किसी शरारती तत्व ने रात को करीब साढ़े नौ बजे पानी भरने की नियत से स्विच ऑन कर दिया. जिसकी वजह से यह दोनों टंकी अचानक तेज धमाके के साथ जमीन पर गिर गया. ग्रामीण नलजल योजना में घटिया सामग्री का इस्तेमाल और घटिया निर्माण को जिम्मेदार ठहरा रहे है.



ग्रामीण ओंकेश्वर राय ने बताया कि उनके घर में दो दिन पहले ही नलजल योजना के तहत नल लगाया गया लेकिन रात को तेज धमाके के साथ यह पानी टंकी अचानक गिर गया. टंकी के पास में रह रहे ग्रामीण शिवजी पटेल ने बताया की इस टंकी के गिरते ही उनके घर की दीवार में दरार आ गई है.  एक अन्य ग्रामीण बम सिंह ने बताया की इस पानी टंकी के निर्माण में धांधली बरती गयी है और मोटे कमीशन के बदले ऐसे टंकी का निर्माण कराया जाता है जिसकी वजह से ऐसे हादसे हो रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज