बोले चिराग पासवान- नए दौर में लोजपा है भाजपा का पक्का साथी, पिछले दरवाजे से NDA में घुसे सीएम नीतीश

नीतीश कुमार और चिराग पासवान (फाइल फोटो)
नीतीश कुमार और चिराग पासवान (फाइल फोटो)

चिराग पासवान (Chirag Paswan) के अनुसार भाजपा (BJP) के नए दौर, मतलब नरेंद्र मोदी और अमित शाह (Narendra Modi and Amit Shah) के समय में लोजपा लगातार साथ में है जबकि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) 2015 विधानसभा चुनाव के बाद पिछले दरवाजे से फिर से एनडीए में शामिल हुए थे.

  • Share this:
जमुई. सांसद और लोक जन शक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) का बिहार के धरती पर स्वागत करते हैं. इस दौरान चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर तंज करते हुए कहा कि पीएम मोदी के आने से नीतीश कुमार का इंतजार अब खत्म हो गया. लोजपा के एनडीए (NDA) में होने या ना होने के मामले में सवाल का जवाब देते हुए चिराग ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से वह भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैं.

चिराग के अनुसार अनुसार भाजपा के नए दौर, मतलब नरेंद्र मोदी और अमित शाह के दौर में लोजपा लगातार साथ में है जबकि नीतीश कुमार 2015 विधानसभा चुनाव के बाद पिछले दरवाजे से फिर से एनडीए में शामिल हुए थे. चिराग ने कहा कि इस चुनाव में लोजपा विधायक जो भी चुने जाते हैं वह भारतीय जनता पार्टी और पीएम नरेंद्र मोदी के साथ होगी.

चिराग पासवान ने दोहराया कि लोजपा पूरी तरह से 2014 से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ है, लेकिन इस चुनाव में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनने से रोकने के लिए उन्होंने जदयू के प्रत्याशी के खिलाफ अपने प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे हैं.



चिराग पासवान ने एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी सोच युवा विरोधी है. बिहार के युवाओं के लिए मैं तो बेहतर शिक्षा की व्यवस्था हुई और न ही रोजगार की. यही वजह है कि आज भी पलायन जारी है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार युवाओं के सुझाव को भी नहीं मानते हैं.
लोजपा अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार हिसाब दें कि उन्होंने पिछले 5 साल में बिहार के विकास के लिए किया. सिर्फ नल-जल और पक्की गली-नली से विकास नहीं होता. बिहार से पलायन को रोकने के लिए या फिर रोजगार देने के लिए कोई उपाय नहीं किए गए.  बिहार में उद्योग लगाने के लिए सीएम कब निवेशकों की बैठक बुलाई यह उन्हें मालूम नहीं और तो और सीएम नीतीश कुमार के कार्यकाल में खुले हुए कारखाने बंद हो गए. अब इंफ्रास्ट्रक्चर भी ध्वस्त हो रहा है.

शिक्षा के मामले पर चिराग ने कहा कि यहां की कॉलेजों में समय पर डिग्री नहीं मिलती वह इसलिए कि डिग्री मिलने के बाद लोग रोजगार मांगेंगे. युवाओं के प्रति गलत सोच के कारण उनको  पलायन के लिए मजबूर किया गया है.

लोजपा अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार 15 साल में जंगलराज का हवाला देकर वोट मांग रहे हैं, वे यह नहीं बता रहे हैं कि उनके कार्यकाल में कितने अपराध हुए. भ्रष्टाचार और अपराध के मामले में सीएम नीतीश कुमार की जीरो टॉलरेंस की नीति धरी की धरी रह गई है.  ना तो बिहार में अपराध रुका और न ही भ्रष्टाचार. सीएम नीतीश कुमार के नाक के नीचे भ्रष्टाचार हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज