Bihar Election 1st Phase: नक्सल प्रभावित जमुई जिले में मतदान को लेकर क्या है तैयारी, जानें

पोलिंग पार्टियों को बूथों के लिए रवाना कर दिया गया है.
पोलिंग पार्टियों को बूथों के लिए रवाना कर दिया गया है.

Bihar Election 1st Phase: जमुई जिले के 4 सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए बुधवार को सुबह 7 बजे से दिन के 4 बजे तक मतदान (Voting) होना है. जिसके लिए जिले में कुल 1768 मतदान केंद्र (Booth) बनाए गए हैं.

  • Share this:
जमुई. बिहार में पहले चरण के चुनाव (Assembly Election) के लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. नक्सल प्रभावित जमुई जिले में 4 सीटों पर बुधवार को मतदान (Voting) होना है. सुबह 7 बजे से दिन के 4 बजे तक वोट डाले जाएंगे. निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए तमाम तैयारियां की गई हैं.

ईवीएम और वीवीपैट लेकर रवाना होने वाली पोलिंग पार्टी को डीएम और एसपी ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगर किसी तरह की लापरवाही बरती गई, तो प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. जमुई शहर के केके कॉलेज से पोलिंग पार्टियों को कलस्टर के लिए रवाना किया गया. मतदान पदाधिकारी कल अहले बूथों पर ईवीएम और वीवीपैट के साथ पहुंचेंगे.

सभी बूथों पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती  



डीएम धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि शांतिपूर्ण मतदान के लिए सभी मतदान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था की गई है. अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है. कोरोना संक्रमण को लेकर भी बूथों पर विशेष तैयारियां की गई हैं. जिन मतदान केंद्रों पर संक्रमित मरीज होंगे, वहां मतदान कर्मी पीपीई कीट के साथ तैनात रहेंगे. मतदान केंद्रों को सेनेटाइज भी कराया गया है.
डीएम ने बताया कि सभी पोलिंग पार्टी को यह निर्देश दिया गया है कि वो ईवीएम और वीवीपैट को लेकर किसी तरह की लापरवाही ना बरतें. वज्रगृह से ईवीएम ले जाने और फिर वज्रगृह में पहुंचाने तक अगर कोई लापरवाही बरतेगा तो उस पर प्राथमिकी दर्ज होगी.

एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि मतदान संपन्न होने के बाद ईवीएम को वज्रगृह में पहुंचाने के लिए पांच कंपनी अर्ध सैनिक बलों को पेट्रोलिंग में लगाया जाएगा, ताकि पोलिंग पार्टी के लौटने वक्त किसी घटना को होने से रोका जा सके. नक्सल प्रभावित इलाकों में अर्धसैनिक बलों की अतिरिक्त तैनाती की गई है. झारखंड से सटे सीमा पर भी कड़ी चौकसी बरती जा रही है.

सुबह 7 से शाम 4 बजे तक होगी वोटिंग 

बताते चलें कि जमुई जिले के 4 सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए बुधवार को सुबह 7 बजे से दिन के 4 बजे तक मतदान होना है. जिसके लिए जिले में कुल 1768 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. जिले में कुल 11,85,438 मतदाता हैं. चारों सीटों पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की संख्या 52 हैं. इस बार के चुनाव में 20 मतदान केंद्र वैसे बनाए गए हैं, जहां सिर्फ महिला मतदान कर्मी ही तैनात रहेंगी. जबकि एक मतदान केंद्र पर सिर्फ दिव्यांग मतदान कर्मी को लगाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज