Home /News /bihar /

Bihar: उपमुखिया बनते ही शराब नहीं पीने की ली थी शपथ, 11 दिन बाद ही नशे में हुए टल्ली, फिर...

Bihar: उपमुखिया बनते ही शराब नहीं पीने की ली थी शपथ, 11 दिन बाद ही नशे में हुए टल्ली, फिर...

Bihar News: बिहार के जमुई जिले से एक उपमुखिया को शराब के नशे में गिरफ्तार किया गया है.

Bihar News: बिहार के जमुई जिले से एक उपमुखिया को शराब के नशे में गिरफ्तार किया गया है.

Bihar News: शपथ लेने के 11 दिन बाद ही उपमुखिया शराब के नशे में गिरफ्तार हो गए. दरअसल जमुई में शराबबंदी कानून के तहत एक उपमुखिया को शराब के नशे में भौड गांव से गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार उप मुखिया का नाम उपेंद्र यादव बताया जा रहा है. उन्होंने 29 दिसंबर को ही खुद शराब नहीं पीने और दूसरों को भी नहीं पीने देने की शपथ ली थी.

अधिक पढ़ें ...

जमुई. बिहार में शराबबंदी कानून (Liquor Ban In Bihar) लागू है. सीएम नीतीश कुमार समेत बिहार के तमाम अधिकारी और मंत्री भी शराब नहीं पीने की शपथ ले चुके हैं. वहीं कई कार्यक्रमों में अलग-अलग जिलों के मुखिया, उपमुखिया समेत तमाम दूसरे जनप्रतिनिधि भी शराब नहीं पीने की शपथ लेते नजर आ जाते हैं. ऐसे ही एक उपमुखिया हैं जिन्होंने बीते 29 दिसंबर को उपमुखिया बनने के बाद शराब नहीं पीने और न ही किसी को पीने देने की शपथ ली थी. लेकिन, शपथ लेने के 11 दिन बाद ही उपमुखिया शराब के नशे में गिरफ्तार हो गए. दरअसल जमुई में शराबबंदी कानून के तहत एक उपमुखिया को शराब के नशे में भौड गांव से गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार उप मुखिया का नाम उपेंद्र यादव बताया गया है. गिरफ्तार उपेंद्र यादव खैरा प्रखंड के रायपुरा पंचायत का उप मुखिया हैं.


जानकारी के अनुसार पुलिस को सूचना मिली थी कि उप मुखिया शराब के नशे में धुत है, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए उपेंद्र यादव को गिरफ्तार किया. फिर उसकी मेडिकल जांच कराई गई, जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई. इस मामले में खैरा थाना पुलिस ने केस दर्ज करते हुए उप मुखिया को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है.


मद्य निषेध विभाग ने दी थी सूचना
बता दें, बीते 29 दिसंबर को खैरा प्रखंड कार्यालय परिसर के सभागार में गिरफ्तार उपेंद्र यादव ने उप मुखिया के रूप में रायपुरा पंचायत के मुखिया के साथ प्रखंड विकास पदाधिकारी के समक्ष शराबबंदी कानून को धरातल पर उतारने की शपथ ली थी. 29 दिसंबर को प्रखंड विकास पदाधिकारी ने इस शख्स को शराबबंदी कानून को लेकर शपथ दिलाई थी. लेकिन, शपथ लेने के 11 दिन बाद ही उप मुखिया को पुलिस ने शराब के नशे में गिरफ्तार किया गया. बताया जा रहा है कि पुलिस ने यह कार्रवाई मद्य निषेध विभाग पटना के द्वारा दी गई सूचना के आधार पर की है.

जेल भेजे गए उपमुखिया
इस मामले में खैरा थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पासवान ने बताया कि मद्य निषेध विभाग के द्वारा यह सूचना मिली थी कि खैरा प्रखंड के रायपुरा पंचायत के उप मुखिया शराब के नशे में धुत है, जिसके बाद पुलिस की टीम ने कार्रवाई की और फिर गिरफ्तार करते हुए मेडिकल जांच करवाई. गिरफ्तार उप मुखिया उपेंद्र यादव को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा दिया गया है. वहीं मद्य निषेध कानून के तहत केस भी दर्ज कर लिया गया है.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Jamui news, Liquor Ban

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर