Home /News /bihar /

Bihar Panchayat Election: पांचवें चरण में जमुई जिले के नक्सल प्रभावित बरहट में 62%, लक्ष्मीपुर में 70% मतदान

Bihar Panchayat Election: पांचवें चरण में जमुई जिले के नक्सल प्रभावित बरहट में 62%, लक्ष्मीपुर में 70% मतदान

बिहार पंचायत चुनाव के पांचवें चरण में रविवार को जमुई जिले के दो प्रखंडों में लोगों ने बढ़-चढ़ कर मतदान में हिस्सा लिया

बिहार पंचायत चुनाव के पांचवें चरण में रविवार को जमुई जिले के दो प्रखंडों में लोगों ने बढ़-चढ़ कर मतदान में हिस्सा लिया

Bihar Panchayat Chunav: जमुई जिले के नक्सल प्रभावित इलाके में चार चरणों की सुरक्षा व्यवस्था के बीच रविवार को पांचवे चरण का मतदान हुआ. चाहे वो बुजुर्ग वोटर हो या फिर पिछड़े इलाके के आदिवासी, जो पांच किलोमीटर पैदल चलकर अपना वोट डालने आये थे. यह सभी मतदान केंद्रों पर घंटों कतार में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते देखे गये

अधिक पढ़ें ...

जमुई. बिहार में हो रहे पंचायत चुनाव के पांचवें चरण (Bihar Panchayat Chunav) में रविवार को जमुई (Jamui) जिले के दो प्रखंडों में मतदाताओं ने जमकर वोट डाला. सुबह सात बजे मतदान शुरू होते ही यहां वोटरों (Voters) के बीच गजब का उत्साह दिखा. चाहे वो बुजुर्ग वोटर हो या फिर नक्सल प्रभावित इलाके (Naxal Affcted Area) में पांच किलोमीटर पैदल चलकर आये मतदाता. पिछड़े इलाके के आदिवासी वोटर मतदान केंद्रों पर घंटों कतार में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते देखे गये. जिले के नक्सल प्रभावित इलाके में चार चरणों की सुरक्षा व्यवस्था के बीच चौथे चरण का चुनाव हुआ. यहां पारामिलिट्री फोर्स के द्वारा लगातार पेट्रोलिंग की गई. पांचवे चरण के मतदान में बुजुर्ग वोटरों ने भी वोट डालकर लोकतंत्र में अपनी भागीदारी निभाई.

पंचायत चुनाव के चौथे चरण में दोनों प्रखंडों बरहट और लक्ष्मीपुर के 22 पंचायतों के 276 मतदान केंद्रों पर मतदान हुआ. गांवों का विकास हो इसके लिए बुजुर्ग और शरीर से लाचार मतदाता भी वोट डालने पहंचे थे. मलयपुर पंचायत के मध्य विद्यालय के बूथ पर 60 साल के सुभाष सिंह वॉकर के सहारे चल कर मतदान केंद्र पर वोट डालने आए थे. वहीं, इसी पंचायत के एक बूथ पर 105 साल की बुजुर्ग महिला वोटर अपने बेटे के साथ वोट डालने पहुंचीं थी. उन्हें उनके बेटे ने गोद में उठा रखा था. यही हाल लक्ष्मीपुर लक्ष्मीपुर के मतदान केंद्रों पर भी देखने को मिला. यहां दिग्घी पंचायत के बेलाटांड़ गांव के 131 नंबर बूथ पर अस्सी साल के रविंद्र कुमार झा घरवालों से जिद कर अपना वोट डालने पहुंचे थे. उनके साथ उनके घर के आए दो युवकों का कहना था कि वो वोट डालने के लिए सुबह चार बजे से ही जिद कर रहे थे. चलने-फिरने में लाचार होने के बाद भी वोट डालने की जिद के कारण उन्हें सहारा देकर मतदान केंद्र पर लाना पड़ा.

मलयपुर पंचायत में 105 वर्षीय बुजुर्ग महिला मतदाता को वोट डलवाने के लिए मतदान केंद्र पर ले जाते उनके परिवार के एक सदस्य

उम्र और लाचारी को हरा कर वोट डालने आए थे कई बुजुर्ग मतदाता

ऐसे ही एक तस्वीर बेलाटांड़ गांव के 132 नंबर बूथ पर देखने को मिला जहां 80 साल के बुजुर्ग वोटर लिलो पंडित को उनके घर का एक युवक गोद में उठाकर लाया था. जमुई जिले के बरहट और लक्ष्मीपुर के कई इलाके नक्सल प्रभावित हैं इस कारण कई मतदान केंद्रों को दूसरे जगह शिफ्ट किया गया था. नक्सल इलाके के आदिवासी बहुल गांवों के मतदाताओं में भी चुनाव को लेकर काफी उत्साह दिखा. यहां के कई मतदाता कई किलोमीटर पैदल चलकर मतदान केंद्र पर पहुंचे और उन्होंने अपना वोट डाला. खास कर के महिलाओं में मतदान को लेकर उत्साह अधिक देखने को मिला.

लक्ष्मीपुर प्रखंड के नजारी पंचायत के जोगिया गांव के मध्य विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर नक्सल इलाके के गांव के लोग वोट डालने पहुंचे थे. बरहट प्रखंड में लगभग 62 प्रतिशत और अति नक्सल प्रभावित लक्ष्मीपुर प्रखंड में 70 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है.

Tags: Bihar Panchayat Chunaw, Bihar Panchayat Election, Bihar politics, Jamui news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर