Home /News /bihar /

Bihar Panchayat Chunav: चौथे चरण में जमुई के नक्सल प्रभावित इलाके में खूब हुआ मतदान, 8 KM चलकर लोगों ने डाले वोट

Bihar Panchayat Chunav: चौथे चरण में जमुई के नक्सल प्रभावित इलाके में खूब हुआ मतदान, 8 KM चलकर लोगों ने डाले वोट

मतदान करने पहुंचे विक्रम ने बताया कि वो छह साल की उम्र से दिव्यांग है, पैरों से लाचार है. लेकिन इसके बावजूद उसने हर चुनाव में अपना वोट डाला है

मतदान करने पहुंचे विक्रम ने बताया कि वो छह साल की उम्र से दिव्यांग है, पैरों से लाचार है. लेकिन इसके बावजूद उसने हर चुनाव में अपना वोट डाला है

Bihar Panchayat Election: बिहार पंचायत चुनाव चुनाव के चौथे चरण में बुधवार को जमुई जिले के अति नक्सल प्रभावित इलाके सोनो प्रखंड के 19 पंचायत में मतदान संपन्न हुआ. यहां बनाए गए 262 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने जमकर वोट किया

जमुई. बिहार पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election) के चौथे चरण में जमुई (Jamui) जिले के नक्सल प्रभावित मतदान केंद्रों (Polling Booth) पर मतदाताओं ने मतदान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया. बुधवार को चुनाव के चौथे चरण में जिले के अति नक्सल प्रभावित इलाके (Naxal Affected Area) सोनो प्रखंड के 19 पंचायत में मतदान (Voting) संपन्न हुआ. यहां बनाए गए 262 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने जमकर वोट किया. चुनावी मैदान में उतरे प्रत्याशियों का भविष्य दो दिन बाद मतगणना (Counting) में तय हो जाएगा. बता दें कि 22 अक्टूबर को जिला मुख्यालय के के.के.एम कॉलेज में काउंटिंग होनी है.

अगर मतदाताओं के उत्साह की बात की जाए तो सुबह सात बजे से ही बूथों पर वोटरों की लाइन लग गई. बलथर पंचायत के बलथर गांव के बूथ पर वोट करने पहुंचे सौरभ कुमार और विवेक ने बताया कि मौसम में ठंड है, लेकिन मताधिकार का प्रयोग करना जरूरी है इसलिए वो मतदान केंद्र पर पहले पहुंचे हैं. यही हाल बाबूडीह पंचायत के मतदान केंद्रों पर भी देखने को मिला. बूथ नंबर 69 पर दो प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए और काफी देर तक हो-हंगामा होता रहा. लेकिन मौके पर पहुंची पारा मिलिट्री फोर्स ने मोर्चा संभालते हुए मामला शांत करवाया. वहीं, अगर वोटर उत्साह की बात करें तो मतदान केंद्र संख्या 71 पर एक दिव्यांग विक्रम कुमार वोट करने पहुंचा था. विक्रम ने बताया कि वो छह साल की उम्र से दिव्यांग है, पैरों से लाचार है. लेकिन इसके बावजूद उसने हर चुनाव में अपना वोट डाला है. विक्रम का कहना है कि लोकतंत्र में एक वोट का महत्व भी बहुत अधिक है. इसलिए सभी लोगों को वोट डालना चाहिए.

नक्सल प्रभावित इलाके में मतदान केंद्रों पर 8 KM पैदल चलकर आए वोटर

बात अगर नक्सल प्रभावित इलाके के उन मतदान केंद्रों की कि जाए जहां पिछले पंचायत चुनाव में हुई घटनाओं के बाद उन बूथों को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया गया था, यहां वोटर आठ किलोमीटर पैदल चलकर अपने मताधिकार का उपयोग करने पहुंचे थे. थम्मन पंचायत के गढ़टांड़ गांव के प्राथमिक विद्यालय में नक्सल प्रभावित इलाके के कई गांवों के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और मतदान किया.  आदिवासी बहुल इलाके से आने वाले यहां के वोटरों ने गढ़टांड़ मतदान केंद्र पर वोट दिया. यहां के मतदाता एलेक्स मरांडी, लुकस मरांडी ने बताया कि उनके इलाके में विकास नहीं हुआ है. वो लोग वैसे जनप्रतिनिधि को चुनना चाहते हैं जो विकास करें, इसके लिए वो आठ किलोमटर पैदल चलकर वोट करने पहुंचे हैं.

जिले के अति नक्सल प्रभावित इलाके में मतदान के दौरान कोई परेशानी ना हो इसलिए जिलाधिकारी (डीएम) अवनीश कुमार सिंह रेसीपी प्रमोद कुमार मंडल मतदान के दौरान इलाके का लगातार दौरा करते रहे. जिला प्रशासन ने चौथे चरण में सोनो प्रखंड में लगभग 62 प्रतिशत मतदान होने की जानकारी दी है.

Tags: Bihar Panchayat Chunaw, Bihar Panchayat Election, Jamui news, Naxal affected area

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर