होम /न्यूज /बिहार /नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप: बिहार की इस महिला BJP विधायक ने दो मेडल्स पर लगाया निशाना

नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप: बिहार की इस महिला BJP विधायक ने दो मेडल्स पर लगाया निशाना

जमुई से बीजेपी की विधायक श्रेयसी सिंह ने शूटिंग इवेंट में पदक जीता है

जमुई से बीजेपी की विधायक श्रेयसी सिंह ने शूटिंग इवेंट में पदक जीता है

Shreyasi Singh Wins Medal: नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में भाजपा की महिला विधायक श्रेयसी सिंह ने दो दिनों में दो मेडल पर नि ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

श्रेयसी सिंह जमुई से बीजेपी विधायक हैं
राजनीति में आने के बाद भी श्रेयसी सिंह का शूटिंग में जलवा लगातार जारी है
श्रेयसी ने नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में दो कांस्य पदक हासिल किया है

जमुई. अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित, इंटरनेशनल कॉमनवेल्थ गेम के शूटिंग इवेंट चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली गोल्डन गर्ल श्रेयसी सिंह राजनीति में आने के बाद भी खेल में अपनी प्रतिभा को आगे बढ़ाने में पीछे नहीं हैं. विधायक रहते हुए इंटरनेशनल शूटर श्रेयसी सिंह ने अब नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में दो मेडल अपने नाम कर अपनी प्रतिभा का एक बार फिर लोहा मनवा लिया है. श्रेयसी सिंह ने यह साबित कर दिया कि राजनीति में आने के बाद विधायक बन क्षेत्र के लोगों की परेशानी को समझते और अपनी पार्टी को मजबूती देते हुए खेल के दुनिया में भी लगातार बेहतर कर रही हैं.

नई दिल्ली में आयोजित हो रहे नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में एक विधायक का अलग-अलग इवेंट में दो मेडल अपने नाम करना दूसरे खिलाड़ियों के लिए किसी आदर्श से कम नहीं. जमुई से भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह ने गुरुवार को भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा आयोजित नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के डबल ट्रैप स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया है, इससे पहले बीते मंगलवार को श्रेयसी सिंह ने नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के इसी आयोजन में शॉटगन इवेंट में कांस्य पदक जीता था. मतलब कह सकते हैं कि नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप के एक ही आयोजन में अभी तक श्रेयसी सिंह ने दो अलग-अलग इवेंट में दो कांस्य पदक अपने नाम कर सफलता का परचम लहराया है.

एक ही प्रतियोगिता में एक से अधिक मेडल जीतना खिलाड़ी के लिए कितना संतोष दायक है, इस पर श्रेयसी सिंह ने कहा है कि हर पेशेवर खिलाड़ी के जीवन में कई ऐसे चरण आते हैं, जब उसे खेल के प्रतिभा के साथ-साथ विपरीत परिस्थितियों से लड़ने का मादा भी दिखाना पड़ता है और उसकी सफलता- असफलता इसी संघर्ष पर टिकी होती है. श्रेयसी सिंह ने अपने परिवारजनों अभिभावक सामान कुछ जमुई क्षेत्र के वासियों के शुभकामना का नतीजा को ही सफलता का कारण बताया है. श्रेयसी सिंह ने कहा है कि कि उनकी इच्छा रहेगी कि राजनीति और खेल जीवन में लगातार संघर्ष जारी रखकर जनसेवा का हर संभव प्रयास करती रहूंगी.

राजनीति में कदम रखने के बाद विधायक बन श्रेयसी सिंह ने इससे पहले भी आईएसएसएफ शूटिंग वर्ल्ड कप में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था. इसके अलावा 64वें नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में भी श्रेयसी सिंह ने गोल्ड मेडल जीत कर अपनी खेल प्रतिभा को दिखाया था. बताते चलें कि भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह पूर्व केंद्रीय मंत्री दिग्विजय सिंह की पुत्री हैं, जिनकी मां पुतुल कुमारी भी बांका की पूर्व सांसद हैं. श्रेयसी सिंह 2018 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक हासिल किया था, उसी साल उन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर विधायक बनने के बाद भी श्रेयसी सिंह अपनी क्षेत्र की जनता के चिंता को दूर करने के साथ-साथ खेल की प्रतिभा को भी आगे बढ़ाने में लगी हैं. श्रेयसी सिंह के इस सफलता से खिलाड़ियों का हौसला बढ़ा है, खासकर उनके राजनीतिक क्षेत्र के लोग और समर्थक उत्साहित हैं.

Tags: Bihar News, Jamui news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें