बिहार: नेता हो तो ऐसा! पीपीई किट पहन सीधे कोविड वार्ड पहुंच गईं श्रेयसी सिंह, कोरोना मरीजों का बढ़ाया हौसला

जमुई सदर अस्पताल स्थित कोविड वार्ड का निरीक्षण करतीं भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह.

जमुई सदर अस्पताल स्थित कोविड वार्ड का निरीक्षण करतीं भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह.

Jamui News: जमुई से भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह ने सिविल सर्जन और चिकित्सकों से बातचीत कर सदर अस्पताल में मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं और ऑक्सीजन की उपलब्धता का जायजा लिया. बाद में पीपीई किट पहन कर वह खुद कोविड वार्ड में चली गईं.

  • Share this:
जमुई. भारतीय जनता पार्टी की विधायक श्रेयसी सिंह ने कोरोना मरीजों का हाल जानने के लिए जमुई सदर अस्पताल का दौरा किया. इसी क्रम में उन्होंने पीपीई किट पहन लिया और कोविड डेडिकेटेड वार्ड में जाकर कोरोना मरीजों से मुलाकात भी की. इस दौरान भाजपा विधायक ने सिविल सर्जन और चिकित्सकों से बातचीत की और कोरोना के इलाज की स्थिति और सुविधाओं का जायजा लिया. अस्पताल निरीक्षण के बाद श्रेयसी सिंह ने बताया कि जमुई को जल्द ही आधा दर्जन Bi-PAP मशीन मिल जाएगी. साथ ही चार वेंटीलेटर को चालू करने के लिए जिला स्तर पर ही तकनीशियन की बहाली कुछ दिनों में कर ली जाएगी. श्रेयसी सिंह ने बताया कि जिले के कोरोना मरीजों का इलाज जमुई में ही हो इसके लिए वे लगातार स्वास्थ्य मंत्री के संपर्क में हैं.

बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव में पहली बार विधायक चुनी गईं श्रेयसी सिंह अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाज अर्जुन अवार्ड से सम्मानित हैं. एक तरफ जहां अधिकतर जनप्रतिनिधि बंद कमरों में खुद की सुरक्षा में लगे हैं ऐसे में जमुई की विधायक द्वारा शुक्रवार को जिले के सदर अस्पताल का दौरा कर कोरोना मरीजों के इलाज के बारे में जानने-समझने की भावना की सराहना हो रही है. अपने इस विजिट में श्रेयसी ने यह भी जाना कि कोरोना मरीजों का इलाज कैसे चल रहा है  और इसमें क्या कमी है.

श्रेयसी सिंह ने मरीजों को हौसला दिया

श्रेयसी सिंह ने सिविल सर्जन और चिकित्सकों से बातचीत कर सदर अस्पताल में मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं और ऑक्सीजन की उपलब्धता का जायजा लिया. बाद में पीपीई किट पहन कर श्रेयसी सिंह कोविद वार्ड में चली गईं जहां इलाज करा रहे कोरोना मरीजो से भी मुलाकात करते हुए उनका हालचाल जाना. इस दौरान भाजपा विधायक ने मरीजों को महामारी से जंग जीतने के लिए हौसला भी बढ़ाया.
Bi-PAP मशीन जल्द लगाने का दावा

सदर अस्पताल के निरीक्षण के बाद श्रेयसी सिंह ने पार्टी कार्यालय पहुंचकर पत्रकारों से भी बात की.   यहां उन्होंने कहा कि कोरोना के इलाज के लिए जरूरी Bi-PAP मशीन जल्द ही जमुई को उपलब्ध करा दिया जाएगा. इसके लिए वह स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे से बात कर चुकी हैं और जल्द ही सदर अस्पताल को 6 Bi-PAP मशीन मिलेगा. जिससे कोरोना मरीजों की जान बचाई जा सके.

जमुई सदर अस्पताल के सिविल सर्जन व कर्मियों से बात करती हुई श्रेयसी सिंह.




क्या होती है Bi-PAP मशीन?

बता दें कि Bi-PAP एक प्रकार का मास्क है, जिसे चेहरे (मुंह) पर लगाया जाता है. इसे लगाने के समय एक चीज का ध्यान रखें कि Bi-PAP मशीन को सही से लगाया जाए, ताकि हवा बाहर न निकल सके. साथ ही फेफड़ें सही से काम कर सके. चूंकि, कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को सांस लेने में तकलीफ होती है. इसके लिए Bi-PAPमशीन का प्रयोग कोरोना समेत फेफड़ों से संबंधित बीमारियों में सांस लेने के लिए किया जाता है. Bi-PAP मशीन फेफड़ों में ऑक्सीजन पहुंचाती है. इस मशीन की मदद से कोरोना के मरीजों के इलाज में सहायता मिलती है.

वाक इन इंटरव्यू से होगी नियुक्ति

श्रेयसी सिंह ने बताया कि सदर अस्पताल को पीएम केअर्स फंड मिले चार वेंटिलेटर को चालू करने के लिए जिला स्तर पर ही तकनीशियन की बहाली होगी. वाक इन इंटरव्यू के लिए 4 मई से प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. श्रेयसी सिंह ने यह भी बताया कि यहां ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है जिले के कोरोना मरीजों का इलाज जमुई में ही हो इसके लिए वह स्वास्थ्य मंत्री से लगातार बातचीत कर रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज