• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • प्रेम प्रसंग और महिला के साथ फोटो वायरल होने पर डॉक्टर की पीट-पीटकर हत्या

प्रेम प्रसंग और महिला के साथ फोटो वायरल होने पर डॉक्टर की पीट-पीटकर हत्या

मृतक के परिवार वालों ने दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है.

मृतक के परिवार वालों ने दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है.

बिहार (Bihar) के जमुई (Jamui) जिले के गिद्धौर थाना इलाके के सेवा गांव में प्रेम प्रसंग को लेकर एक ग्रामीण चिकित्सक की पीट-पीटकर हत्या (Murder) कर दी गई.

  • Share this:

जमुई. बिहार (Bihar) के जमुई (Jamui) जिले के गिद्धौर थाना इलाके के सेवा गांव में प्रेम प्रसंग को लेकर एक ग्रामीण चिकित्सक की पीट-पीटकर हत्या (Murder) कर दी गई. मृत ग्रामीण चिकित्सक का नाम 40 वर्षीय मनोज पंडित बताया गया है. जानकारी के मुताबिक सोमवार की देर रात ग्रामीण चिकित्सक मनोज पंडित को गांव के कुछ लोगों ने पकड़ लिया और फिर जमकर बेरहमी से पिटाई की, जिससे मौके पर ही मौत हो गई. घटना के पीछे प्रेम प्रसंग कारण बताया गया है. हत्या के बाद मृतक के परिजन पुलिस प्रशासन से मामले में दोषी लोगों को गिरफ्तार करने का गुहार लगा रहे हैं.

बताया जा रहा है कि ग्रामीण चिकित्सक मनोज पंडित का गांव की ही एक महिला के साथ प्रेम प्रसंग था. जिसका एक फोटो वायरल हो रहा था, उसी वायरल फोटो के आधार पर गांव के कुछ लोग और महिला के परिवार वालों ने मनोज पंडित को पकड़कर बेरहमी से पिटाई की. ग्रामीण चिकित्सक का महिला के घर इलाज के लिए जाने के दौरान प्रेम हो गया था.

इनपर हत्या का आरोप
महिला के साथ प्रेम प्रसंग और फिर फोटो वायरल होने के बाद हुई इस हत्या का आरोप गांव के ही गौतम रविदास किशन रविदास का परिवार समेत दो दर्जन लोगों पर लगाया गया है. मृतक के भाई कृष्ण रंजन कुमार ने बताया कि उसके बड़े भाई जो ग्रामीण चिकित्सक हैं, अगर किसी के घर इलाज के लिए जाने के दौरान किसी महिला से प्रेम हो गया था या फिर दोनों का एक साथ का फोटो वायरल हुआ तो उसमें उसका सिर्फ भाई ही दोषी नहीं था. बल्कि वह महिला भी दोषी थी, लेकिन लोगों ने मेरे भाई मनोज पंडित को पीट पीट कर मार डाला, जो कहीं से न्याय के लायक नहीं है. प्रेम प्रसंग या वायरल फोटो की शिकायत पुलिस को प्रशासन को करनी चाहिए थी. मामले में एसडीपीओ डॉ राकेश कुमार ने बताया कि गिद्धौर के सेवा में ग्रामीण चिकित्सक की पीट-पीटकर हत्या का मामला सामने आया है. परिजन के आवेदन पर केस दर्ज करते हुए थानाध्यक्ष को कार्रवाई के लिए निर्देश दिया गया है. मामले में जो भी दोषी होंगे उन्हें बख्से नही जाएंगे, सभी बिंदुओं की जांच चल रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज