होम /न्यूज /बिहार /

नीतीश के मंत्री: 2 साल में दोबारा मंत्री बने निर्दलीय विधायक सुमित सिंह, जानें वजह

नीतीश के मंत्री: 2 साल में दोबारा मंत्री बने निर्दलीय विधायक सुमित सिंह, जानें वजह

चकाई से निर्दलीय एमएलए सुमित कुमार सिंह नीतीश सरकार में मंत्री बने.

चकाई से निर्दलीय एमएलए सुमित कुमार सिंह नीतीश सरकार में मंत्री बने.

Nitish Kumar Cabinet Expansion: महागठबंधन सरकार में चकाई के निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह एक बार फिर मंत्री पद का शपथ ली है. इससे पहले भाजपा-जदयू गठबंदन वाली एनडीए सरकार में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री थे. 2 साल के अंदर सुमित कुमार सिंह दोबारा मंत्री बनाए गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

जमुई. लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार के कैबिनेट में मंत्री रहे नरेंद्र सिंह के बेटे सुमित कुमार सिंह महागठबंधन सरकार में भी मंत्री बन गए हैं. निर्दलीय चुनाव जीतने वाले विधायक सुमित कुमार सिंह दोबारा मंत्री बने हैं. 2020 में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह एनडीए के सरकार में भी मंत्री बने थे और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग उनके जिम्मे था. एनडीए सरकार के बाद अब जब नीतीश कुमार के प्रतिनिधित्व में महागठबंधन की सरकार बनी उसमें भी सुमित कुमार सिंह ने अपना स्थान बनाया है.

बता दें कि जदयू से टिकट नहीं मिलने के बाद 2020 विधानसभा चुनाव में सुमित कुमार सिंह चकाई से निर्दलीय चुनाव लड़कर जीत हासिल की थी. निर्दलीय चुनाव लड़ कर सुमित कुमार सिंह ने राष्ट्रीय जनता दल और जदयू के उम्मीदवार को हराया था.  दरअसल, 2020 के विधानसभा चुनाव में चकाई सीट से सुमित कुमार सिंह को जदयू से टिकट नहीं मिला, फिर निर्दलीय चुनाव लड़ते हुए सुमित ने जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दल कि दोनों उम्मीदवार को हरा दिया और विधायक चुने गए.

निर्दलीय विधायक बनने के बाद ही सुमित कुमार सिंह ने नीतीश कुमार को समर्थन देने की घोषणा कर दी थी. दोनों बार चुनाव जीतने के बाद सुमित कुमार सिंह का नीतीश कुमार को समर्थन देना और क्षेत्र में मजबूत पकड़ ही उनके दोबारा मंत्री बनने का कारण बताया जा रहा है.

एनडीए के बाद महागठबंधन की सरकार में मंत्री बनने वाले  सुमित कुमार सिंह पहली बार 2010 में चकाई विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था, तब वह झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर चुनाव लड़ते हुए जीत हासिल की थी; लेकिन चुनाव जीतने के बाद उन्होंने सीधे तौर पर नीतीश कुमार को समर्थन देते हुए जदयू में शामिल हो गए थे.

गौरतलब है कि सुमित कुमार सिंह के पिता नरेंद्र सिंह लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार की सरकार में कई विभागों के मंत्री रह चुके थे. नरेंद्र सिंह का निधन बीते 4 जुलाई को बीमारी के इलाज के दौरान हो गया था. नरेंद्र सिंह छात्र जीवन से राजनीति में सक्रिय रहते हुए लालू और नीतीश के साथ रहे थे.

Tags: Bihar News, Bihar politics

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर