Home /News /bihar /

तेरे बिना भी क्या जीना, ओ साथी रे... पत्नी की मौत के बाद शोकग्रस्त 90 साल के पति का भी निधन

तेरे बिना भी क्या जीना, ओ साथी रे... पत्नी की मौत के बाद शोकग्रस्त 90 साल के पति का भी निधन

पत्नी के निधन की खबर सुनकर शोकग्रस्त पति की भी मौत कुछ घंटों के भीतर हो गई.

पत्नी के निधन की खबर सुनकर शोकग्रस्त पति की भी मौत कुछ घंटों के भीतर हो गई.

Real Love Story: इस बुजुर्ग दंपति की मौत के बारे में परिजनों ने बताया कि दर्शन यादव गांव में टहल रहे थे. तब उन्हें इस बात की जानकारी दी गई कि उनकी पत्नी का निधन हो गया है. यह सदमा दर्शन यादव बर्दाश्त नहीं कर सके और घर लौट गए. इसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ने लगी. कुछ देर तक वह अपनी पत्नी के शव के पास चुप बैठे रहे. फिर एकाएक विलाप करने लगे. पत्नी की मौत के लगभग 8 घंटे के बाद दर्शन यादव ने भी प्राण त्याग दिया.

अधिक पढ़ें ...

जमुई. कहते हैं कि उम्र के साथ प्रेम और गहरा होता जाता है. अमर प्रेम की ऐसी ही कहानी आज जमुई जिले में सामने आई. यहां के झाझा में कुछ ही समय के अंतराल पर बुजुर्ग दंपति की मौत हो गई. पहले पत्नी का निधन हुआ, फिर गम में डूबे पति की मौत हो गई. इस बुजुर्ग जोड़े का निधन इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है.

झाझा शहर के हेलाजोत में शुक्रवार की देर शाम कई दिनों से बीमार चल रहीं सोहगी देवी (85) की मौत हो गई. पत्नी की मौत की खबर सुनकर पति दर्शन यादव (90) गम में डूब गए. फिर कुछ देर बाद ही शोकग्रस्त दर्शन यादव का भी निधन हो गया. इस घटना के बाद पूरे इलाके में इन दोनों के अमर प्रेम की चर्चा होने लगी. लोग कह रहे थे कि दोनों के बीच प्यार की डोर इस कदर थी कि दोनों ने दुनिया को एक साथ विदा कहा.

शनिवार को बुजुर्ग दंपति का अंतिम संस्कार परिवारवालों ने किया. इस दंपति को अंतिम विदा देने इलाके के दर्जनों लोग शामिल हुए. इस बुजुर्ग दंपति की मौत के बारे में परिजनों ने बताया कि दर्शन यादव गांव में टहल रहे थे. तब उन्हें इस बात की जानकारी दी गई कि उनकी पत्नी का निधन हो गया है. यह सदमा दर्शन यादव बर्दाश्त नहीं कर सके और घर लौट गए. इसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ने लगी. कुछ देर तक वह अपनी पत्नी के शव के पास चुप बैठे रहे. फिर एकाएक विलाप करने लगे. पत्नी की मौत के लगभग 8 घंटे के बाद दर्शन यादव ने भी प्राण त्याग दिया.

बताया जा रहा है कि बुजुर्ग दर्शन यादव की पत्नी खराब तबीयत की वजह से बीते कई दिनों से बिछावन पर ही पड़ी हुई थीं. बीमार पत्नी की देखभाल भी दर्शन यादव करते थे. इस दंपति के निधन की खबर बड़ी तेजी से फैली और शनिवार को इन दोनों के अंतिम दर्शन करने के लिए आसपास के स्त्री-पुरुषों की भीड़ जुटने लगी. बाद में सबकी सहमति और इच्छा से गाजे-बाजे के साथ दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

Tags: Death, Jamui news, Love Story

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर