लाइव टीवी

इलाज के दौरान मरीज की मौत के बाद ग्रामीणों का हंगामा, डॉक्‍टर की कार में लगाई आग

KC Kundan | News18 Bihar
Updated: January 15, 2020, 8:00 PM IST
इलाज के दौरान मरीज की मौत के बाद ग्रामीणों का हंगामा, डॉक्‍टर की कार में लगाई आग
मौके पर पहुंची पुलिस के साथ भी हुई झड़प.

शहर के निजी क्लीनिक में एक मरीज की मौत के बाद परिजन और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया. इस दौरान उन्‍होंने ना सिर्फ निजी क्लीनिक के कर्मियों के साथ मारपीट की बल्कि डॉक्टर (Doctor) की कार को भी आग के हवाले कर दिया.

  • Share this:
जमुई. बिहार के जमुई जिले के महाराजगंज इलाके के निजी क्लीनिक में एक मरीज की मौत के बाद परिजन और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया. आक्रोशित परिजनों ने ना सिर्फ निजी क्लीनिक के कर्मियों के साथ मारपीट की बल्कि वहां पर खड़ी डॉक्टर (Doctor) की कार को भी आग के हवाले कर दिया. यही नहीं, वहां मौजूद लोगों ने निजी क्लीनिक की पैथोलॉजी (Pathology) में भी आग लगा दी. हंगामा कर रहे लोगों ने मरीज की मौत के लिए निजी क्‍लीनिक के डॉक्‍टर पर लापरवाही का आरोप लगाया है.

ये है पूरा मामला
खबर के मुताबिक के जमुई शहर के शिरचंद नवादा मोहल्ले के एक 35 साल के युवक कुन्दन साव उर्फ मणि का एक सप्ताह पहले सड़क दुर्घटना में हाथ टूटा गया था, जिसका इलाज चल रहा था. आज दोपहर में उसके हाथ में फिर दर्द होने लगा जिसके बाद उसे डॉक्टर अरुण सिंह के निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया था, लेकिन बताया जा रहा है कि ऑपरेशन करने के बाद उस युवक की मौत हो गई. इसके बाद बाद परिजन और ग्रामीण आक्रोशित हो गए और फिर जमकर हंगामा करते हुए तोड़फोड़ और आगजनी की.

पुलिस से हुई झड़प

तोड़फोड़ और आगजनी की सूचना मिलने के बाद जमुई नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची. इसके बाद एसपी डॉ. इनामुल हक मेगनु और एसडीपीओ राम पुकार सिंह ने पुलिस बल के साथ पहुंच कर हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ते हुए क्लीनिक से बाहर किया. इस दौरान क्लीनिक रणक्षेत्र में बदल गया. पुलिस बल और पदाधिकारियों के साथ आक्रोशित लोगों की झड़प भी हुई. किसी तरह लोगों को क्लीनिक से पुलिस ने बाहर निकाला और फिर जाकर मामला शांत हुआ. जबकि आग को बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड को बुलाया गया.

मृतक के चचरे भाई ने लगाया ये आरोप
मृतक युवक के चचेरे भाई मनीष साव और ग्रामीण बबलू कुमार का आरोप था कि चिकित्सक की लापरवाही के कारण उसकी जान चली गई. परिजनों की मानें तो उसका एक सप्ताह पहले सड़क हादसे में हाथ टूटा था, जिसके बाद आज दोपहर में लगभग 12 बजे उसके हाथ में दर्द होने लगा. इसके बाद उसे लेकर लोग डॉक्टर अरुण सिंह के क्लीनिक में आए थे. जहां पर डॉक्टर के द्वारा ऑपरेशन की बात कही गई थी, लेकिन ऑपरेशन के बाद युवक की मौत हो गई. 

 ये भी पढ़ें

डिप्‍टी CM सुशील मोदी ने तेजस्‍वी की सीमांचल यात्रा पर कसा तंज, लगाया ये आरोप

कांग्रेस के दही-चूड़ा भोज में जुटे गठबंधन के सभी दिग्गज, लेकिन नहीं मिटी खटास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमुई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 7:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर