Home /News /bihar /

आखिर चिराग पासवान को गुस्‍सा क्‍यों आया? किसे दे डाला 15 दिनों का अल्‍टीमेटम?

आखिर चिराग पासवान को गुस्‍सा क्‍यों आया? किसे दे डाला 15 दिनों का अल्‍टीमेटम?

Jamui News: कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच जमुई की लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था देखकर चिराग पासवान बेहद नाराज हो गए. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Jamui News: कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच जमुई की लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था देखकर चिराग पासवान बेहद नाराज हो गए. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Bihar Political News: कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच सांसद चिराग पासवान अपने संसदीय क्षेत्र जमुई पहुंचे. यहां उन्‍होंने सदर अस्‍पताल में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लिया. अस्‍पताल में लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था को देखकर चिराग बिफर पड़े. इस दौरान सिविल सर्जन सांसद के सवालों पर मौन साधे रहे. सांसद ने स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था को दुरुस्‍त करने के लिए 15 दिनों का अल्‍टीमेटम भी दे डाला.

अधिक पढ़ें ...

जमुई. सांसद चिराग पासवान इन दिनों अपने संसदीय क्षेत्र जमुई के दौरे पर हैं. उन्‍होंने विभिन्‍न जगहों का दौरा करने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच जमुई सदर अस्‍पताल का निरीक्षण करने भी पहुंचे. इस दौरान सदर अस्‍पताल में लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था को देखकर वह बेहद नाराज हो गए. चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने इस दौरान इमरजेंसी वार्ड, कोविड शिशु वार्ड, मरीज भर्ती वार्ड आदि का मुआयना किया. जमुई के सांसद ने बेड तक ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई के बारे में भी जानकारी ली. इस दौरान सदर अस्‍पताल में व्‍यवस्‍थागत खामी पाए जाने पर चिराग काफी नाराज हो गए. उन्‍होंने सदर अस्‍पताल प्रबंधन और जिला स्‍वास्‍थ्‍य विभाग को 15 दिनों का अल्‍टीमेटम देते हुए व्‍यवस्‍थाओं में सुधार करने का निर्देश दिया.

सदर अस्‍पताल का निरीक्षण करने के दौरान स्‍थानीय सांसद चिराग पासवान ने कहा कि सरकार सभी लोगों के बेहतर स्वास्थ्य सेवा को लेकर संसाधन मुहैया करा रही है. इसके बावजूद मरीज के बेड पर चादर न होना और वार्ड में ताला लगा होना कतई न्‍यायसंगत नहीं है. उन्होंने यह स्थिति पूरे बिहार की बताते हुए कहा कि तभी तो मुख्यमंत्री एक छोटा सा ऑपरेशन कराने दिल्ली चले जाते हैं. चिराग ने कहा कि प्रदेश में लचर स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था का प्रमाण मुजफ्फरपुर में मिल चुका है. वहां कई लोगों की आंखों की रोशनी सदा के लिए चली गई. बाएं की जगह दाएं आंख की सर्जरी कर दी गई. जमुई सांसद ने कहा कि स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमराई हुई है.

2 New NH in Bihar: बिहार में बनेंगे 2 नए नेशनल हाईवे, 1000 करोड़ रुपये होगा खर्च, रूट भी तय 

डॉक्‍टर के न आने की शिकायत
इस दौरान कई लोगों ने सदर अस्‍पताल में डॉक्‍टरों के न आने और इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया. इससे चिराग गुस्‍से में आ गए. इतना ही नहीं, लोगों ने कहा कि अस्‍पताल में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था ध्‍वस्‍त है. शिशु कोविड वार्ड में ताला लटके होने और बेड पर चादर तक न होने की शिकायत पर चिराग बिफर गए और स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को कड़ी फटकार लगाई.

गंदगी पर सिविल सर्जन को फटकार
सदर अस्पताल के निरीक्षण के दौरान गंदगी और व्यवस्था में कमी देख भड़के सांसद ने सिविल सर्जन और अन्य स्वास्थ्य अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई. कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी में कमियां ही कमियां पाई गईं. सदर अस्‍पताल में कहीं बेड पर चादर नहीं तो कहीं गंदगी का अंबार लगा था. सदर अस्पताल की दुर्दशा को देख सांसद से स्वास्थ्य पदाधिकारियों को पत्र लिखने की भी चेतावनी दी और सारी व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त करने की हिदायत दी. इस दौरान सांसद के सवालों पर सिविल सर्जन मौन रहे.

Tags: Chirag Paswan, Jamui news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर