अस्पताल पहुंचने से पहले ऑटो में महिला ने बच्चे को दिया जन्म

जमुई के सिविल सर्जन डॉ श्याम मोहन दास ने बताया कि गर्भवती महिला के देखभाल और प्रसव की जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ता की होती है.

News18 Bihar
Updated: September 11, 2019, 5:50 PM IST
अस्पताल पहुंचने से पहले ऑटो में महिला ने बच्चे को दिया जन्म
अस्पताल के गेट पर ऑटो में हुआ प्रसव
News18 Bihar
Updated: September 11, 2019, 5:50 PM IST
जमुई. बिहार के जमुई (Jamui) में प्रसव के लिए अस्पताल जा रही प्रसूता (Pregnant Woman) ने ऑटो में ही बच्चे को जन्म दे दिया. वहीं, सदर अस्पताल के मेन गेट पर ऑटो में ही प्रसव के बाद महिला और बच्चे के इलाज में भी लापरवाही देखी गई. प्रसव के बाद महिला अपने नवजात बच्चे के साथ सदर अस्पताल भवन के पोर्टिको में लगभग एक घंटे तक पड़ी रही.

ऑटो में ही काफी देर तक पड़े रहे जच्चा-बच्चा 
इस दौरान आशा कार्यकर्ता अस्पताल कर्मियों को बुलाने के लिए इधर-उधर दौड़ती रही. ऑटो में ही जच्चा-बच्चा काफी देर तक पड़े रहे. जब अस्पताल में आए लोगों की भीड़ जुटने लगी तो एक एनएएम ने ऑटो में ही इलाज शुरू कर दी. जानकारी के मुताबिक, जमुई सदर प्रखंड के अमरथ गांव की नीलम देवी को प्रसव के लिए सदर अस्पताल लाया जा रहा था. इस दौरान अस्पताल के गेट पर ऑटो में ही प्रसव हो गया.

बता दें कि गर्भवती महिलाओं को प्रसव के लिए सरकारी अस्पताल लाने और फिर घर पहुंचाने की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग है, जिसके लिए गांव-गांव में आशा कार्यकर्ताओं की तैनाती की गई है.

जांच के बाद दोषियों पर होगी कार्रवाई: सिविल सर्जन
मामले में जमुई के सिविल सर्जन डॉ श्याम मोहन दास ने बताया कि गर्भवती महिला के देखभाल और प्रसव की जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ता की होती है. प्रसव के लिए मुफ्त में एंबुलेंस की भी व्यवस्था है. इस मामले में ऑटो से आने और प्रसव के बाद इलाज में देरी के मामले की जांच कर दोषी पर कार्रवाई की जाएगी.

(रिपोर्ट- केसी कुंदन)
Loading...

ये भी पढ़ें-

सेक्स रैकेट केस: नाबालिग पीड़िता ने लिया RJD विधायक का नाम! हो सकते हैं अरेस्ट

KBC 11 का पहला करोड़पति बना बिहार का लाल, सनोज ने रचा इतिहास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमुई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 5:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...