2 दिन से लापता युवक का शव जंगल में मिला, पुलिस जांच में जुटी

दो दिन पहले बेर खाने जंगल गया था युवक.
दो दिन पहले बेर खाने जंगल गया था युवक.

बिहार के जमुई जिले (Jamui District) के झाझा थाना इलाके में एक युवक की हत्या पत्थर से कूच कर की गई है. जबकि मृतक की शिनाख्त 26 साल के मोहम्मद नौशाद अंसारी के रूप में की गई है.

  • Share this:
जमुई. बिहार के जमुई जिले (Jamui District) के झाझा थाना इलाके (Jhajha Police Station Area) के ताराकुरा जंगल से एक युवक का शव बरामद हुआ है. इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई. युवक की हत्या पत्थर से कूच कर की गई है. बहरहाल, जिस युवक का शव बरामद हुआ है उसकी शिनाख्त 26 साल के मोहम्मद नौशाद अंसारी के रूप में की गई है. वह झाझा थाना इलाके के ही पहाड़पुरा गांव का रहने वाला था. ग्रामीणों द्वारा जंगल में शव देखने के बाद उसकी जानकारी पुलिस को दी गई. जबकि मौके पर पहुंचकर झाझा थानाध्यक्ष दलजीत झा (Daljit Jha) ने शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

26 जनवरी से लापता था युवक
जानकारी के अनुसार मृत युवक मोहम्मद नौशाद अंसारी 26 जनवरी से लापता था. वह गांव के अपने दो मित्रों के साथ बेर खाने के लिए जंगल में गया था, लेकिन वह वापस नहीं लौटा. इस बाद परिजनों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर उसकी तलाश की, लेकिन उसका कोई पता नहीं चला. जबकि मंगलवार की सुबह एक बार फिर ग्रामीणों ने युवक की तलाश शुरू की तो उसका शव ताराकुरा जंगल में मिला. मृत युवक की हत्या पत्थर से कूच कर बेरहमी से की गई है. घटना स्थल से पुलिस ने वो पत्थर भी बरामद किया है जिससे युवक को हत्या हुई है. हत्या का आरोप आपसी दुश्मनी में गांव के ही रिश्तेदार पर लगाया जा रहा है. मृतक पिता रउफ अंसारी ने बताया कि गांव के युवकों के साथ वो 26 जनवरी को जंगल गया था, लेकिन वापस नहीं लौटा और अब उसका शव जंगल से शव बरामद हुआ है.

 
एक्‍श्‍न में पुलिस


सूचना के बाद झाझा थानाध्यक्ष दलजीत झा ने मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है. थानाध्यक्ष ने बताया कि युवक इसी 26 जनवरी से लापता था, जिसका शव ताराकुरा जंगल से बरामद हुआ है. युवक के परिवार के आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई की जाएगी और हत्या में शामिल लोगों की गिरफ्तारी जल्द होगी.

ये भी पढ़ें-

CM नीतीश कल करेंगे बौद्ध महोत्सव का उद्घाटन, बॉलीवुड की दिखेगी धमक

 

15 साल से सड़क किनारे फेंके गए तिरंगे समेट रहा है ये शख्‍स, ये है वजह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज