बिहार में कोरोना महामारी पर जदयू- बीजेपी आमने-सामने, संजय जायसवाल को उपेंद्र कुशवाहा ने दी ये सलाह

बिहार में कोरोना महामारी को लेकर जेडीयू और बीजेपी नेताओं के बीच ट्वीट हो रहे हैं.

बिहार में कोरोना महामारी को लेकर जेडीयू और बीजेपी नेताओं के बीच ट्वीट हो रहे हैं.

बिहार (Bihar) में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाने के फैसले पर बीजेपी (BJP) और जेडीयू (JDU) के नेताओं के बीच ट्वीटर में बयानबाजी शुरू हो गई है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने नाइट कर्फ्यू पर सवाल खड़े किये तो जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने उनको ये जवाब दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 7:25 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण की रफ्तार काफी तेजी से बढ़ रही है. अब एक दिन में संक्रमण का आंकड़ा 10,000 हो गया है. बिहार में बढ़ती कोरोना की रफ्तार के साथ सियासत ने भी रफ्तार पकड़ ली है. इस बार सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने-सामने नहीं बल्कि सत्ताधारी दल BJP-JDU के नेता की आपस में भिड़ गए हैं. सरकार में बड़े भाई की भूमिका वाली बीजेपी ने जब सरकार के निर्णय पर सवाल खड़े किये तो छोटे भाई की भूमिका वाली जदयू को यह बात नागवार गुजरी. इसके बाद जदयू ने बीजेपी को करारा जवाब दिया.

बिहार में नाईट कर्फ्यू लगाने के फैसले पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने सवाल खड़े करते हुए कहा था कि सिर्फ नाइट कर्फ्यू लगाने से कोरोना कैसे खत्म होगा. बीजेपी अध्यक्ष ने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से सरकार से यह सवाल पूछा था, जिसके जवाब में ट्वीट कर जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने संजय जायसवाल को नसीहत देते हुए कहा कि अभी राजनीतिक बयानबाजी का वक्त नहीं है. अपने दो लाइन के ट्वीट में उपेंद्र कुशवाहा ने इशारों ही इशारों में बीजेपी और संजय जायसवाल के लिए बड़ी बात कह दी.

Corona News: बिहार में कोरोना संक्रमण से भयावह हो रहे हालात, 83 % हुआ रिकवरी रेट, ऑक्सीजन की भी किल्लत

इस मामले की शुरुआत 17 अप्रैल को तब हुई जब राज्यपाल फागू चौहान के नेतृत्व सर्वदलीय बैठक हुई थी. बैठक में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जैसवाल ने वीकेंड कर्फ्यू लगाने की बात कही थी. उन्होंने सलाह दी थी कि वीकेंड 62 घंटे की कर्फ्यू से संक्रमण की चेन को तोड़ने में काफी मदद मिलेगी. उन्हें उम्मीद थी कि सरकार उनकी बातों पर अमल जरूर करेगी.
लेकिन, 18 अप्रैल को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन के बदले सिर्फ नाइट कर्फ्यू लगाया, जिसके बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने अपने फेसबुक पर सरकार के निर्णय पर आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा था कि रात का कर्फ्यू लगाने से करोना वायरस का प्रसार कैसे बंद होगा? अगर करोना वायरस के प्रसार को वाकई रोकना है तो हमें हर हाल में शुक्रवार शाम से सोमवार सुबह तक की बंदी करनी ही होगी. घरों में बंद इन 62 घंटों में लोगों को अपनी बीमारी का पता चल सकेगा और उनके बाहर नहीं निकलने के कारण बीमारी के प्रसार को रोकने में कुछ मदद मिलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज