अपना शहर चुनें

States

तेजप्रताप बोले- आरएसएस के लोगों से घिरे हैं तेजस्वी यादव, मेरी भी नहीं सुनते

तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)
तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

लोकसभा चुनाव 2019 की सियासी घमासान के बीच बिहार में लालू यादव के परिवार में तेजप्रताप यादव के बगावती तेवर जारी हैं.

  • Share this:
आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव का बगावती तेवर जारी है. जहानाबाद में अपने प्रत्याशी चंद्रप्रकाश यादव के समर्थन में बुधवार को चुनाव प्रचार करने पहुंचे तेजप्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव पर निशाना साधा. तेजप्रताप ने कहा कि तेजस्वी यादव आरएसएस के लोगों से घिरे हैं और वह मेरी भी नहीं सुनते हैं.

तेजप्रताप यादव जहानाबाद से आरजेडी प्रत्याशी सुरेंद्र यादव के खिलाफ लगातार एक सप्ताह से प्रचार कर रहे हैं. उन्होंने जहानाबाद के चुनावी सभा में लोगों से चंद्रप्रकाश यादव के लिए वोट मांगा. उन्होंने लोगों से अपील की कि लालू-राबड़ी मोर्चा के प्रत्याशी को वोट दें.

हाल ही में सुरेंद्र यादव पर तीखा हमला करते हुए तेजप्रताप ने लालू यादव का दरबान और हथियार का तस्कर तक बता डाला था. तेजप्रताप ने कहा था कि उनके पिता लालू यादव के जेल में रहने के कारण गलत लोगों को टिकट मिल गया है. उन्होंने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि उन्होंने चापलूसी करने वाले को टिकट दिया है. तेजप्रताप ने सुरेंद्र यादव को अपराधी सोच का आदमी करार दिया था.



कुछ दिन पहले चुनाव प्रचार के दौरान तेजप्रताप यादव ने कहा था कि वह लालू के खून हैं और लालू जी के नहीं रहने से महागठबंधन से जुड़े नहीं हैं. अपरोक्ष रूप से तेजस्वी पर तंज कसते हुए तेजप्रताप ने कहा कि लालू जी एक दिन में 10 से 12 प्रोग्राम करते थे, लेकिन बहुत से लोग महज चार प्रोग्राम करके लरूआ (बीमार पड़ना) जाते हैं.
ये भी पढ़ें- 

शकील अहमद की कांग्रेस से सदस्यता समाप्त, मधुबनी सीट से निर्दलीय लड़ रहे हैं चुनाव

जिन्ना की तारीफ से पलटे शत्रुघ्न सिन्हा, कहा- ज़ुबान फिसल गई थी

रविशंकर प्रसाद ने नामांकन से पहले लिया मां का आशीर्वाद

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज