बिहार के इस थाने में 'मुर्दा' बन गया मुजरिम, SC/ST एक्ट में दर्ज हुआ केस

बिहार के जहानाबाद में मृत व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर (फाइल फोटो)

Jehanabad News: बिहार के जहानाबाद स्थित वैना गांव गांव के जिस शख्स नीरज कुमार, पिता रंगनाथ शर्मा के खिलाफ केस हुआ है उनकी मृत्यु दो साल पहले यानी 2019 में ही हो चुकी है.

  • Share this:
जहानाबाद. बिहार के जहानाबाद से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. यहां के एससी /एसटी थाने में एक मृत व्यक्ति पर मुकदमा दर्ज कर दिया गया. घटना जिले के घोषी थाना क्षेत्र के वैना गांव की है. मृत व्यक्ति के ऊपर अनुसूचित जाति जनजाति अधिनियम के तहत केस दर्ज कर किया गया है. गांव के जिस शख्स नीरज कुमार, पिता रंगनाथ शर्मा के खिलाफ केस हुआ है उनकी मृत्यु 2019 में ही हो चुकी है. इसका मृत्यु प्रमाण पत्र  भी स्थानीय प्रखंड कार्यालय से जारी किया गया है लेकिन कुछ ग्रामीणों द्वारा झूठा मुकदमा बनाने के लिए मुर्दा को भी मुजरिम बना दिया गया.

एससी-एसटी थाने में गांव के ही जगदीश दास द्वारा झूठा आवेदन दिया गया जिसके आधार पर पुलिस द्वारा भी प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी. इस घटना से ग्रामीण भी हैरान हैं कि किस तरह से झूठा मामला बनाकर लोगों को फंसाने की साजिश की जा रही है. अनुसूचित जाति अधिनियम का दुरुपयोग कर मृत व्यक्ति पर मारपीट करने तथा जातिसूचक शब्द बोलने का आरोप लगाना अपने आप में झूठ की कलई खोलता है.

इस वाबत एससी-एसटी थानाध्यक्ष कामेश्वर पासवान ने बताया कि पीड़ित के दिये आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज की गई है अगर किसी मृतक का नाम दिया आवेदन में दिया गया है तो अनुसंधान में हटा दिया जायेगा. भले ही अनुसंधान में मृत व्यक्ति का नाम हटा दिया जाएगा परंतु एससी एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज हो जाने से मृतक के परिजन के साथ साथ ग्रामीण भी चिंतित है. गांव में नौ जून की रात पुरानी रंजिश को लेकर दो गुटों में मारपीट हो गयी थी जिसके बाद एक पक्ष के लोगो द्वारा बिना सही जानकारी के ही एससी एसटी थाना में केस दर्ज कराया गया है. फिलहाल पुलिस इस मामले की पड़ताल में लगी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.