लाइव टीवी
Elec-widget

डॉक्टरों के लिए पहेली बनी इस गांव में फैली बीमारी, पांच मासूमों की हो चुकी है मौत

RAGHIB AHSAN | News18 Bihar
Updated: November 20, 2019, 10:24 AM IST
डॉक्टरों के लिए पहेली बनी इस गांव में फैली बीमारी, पांच मासूमों की हो चुकी है मौत
बिहार के जहानाबाद का वो गांव जहां अज्ञात बीमारी से बच्चों की मौत हो रही है

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने छानबीन के बाद बताया कि पिछले तीन महीनों में गांव के तीन बच्चों की मौत (Death) हुई है जिनमे से एक डेढ़ वर्षीय बच्ची कि मौत अपने ही परिजनों से दब कर हुई थी जबकि दो बच्चों की मौत बुखार (Fever) की वजह से हुई थी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 20, 2019, 10:24 AM IST
  • Share this:
जहानाबाद. बिहार के जहानाबाद में एक गांव में हो रही बच्चों की मौत स्वास्थ्य महकमे और प्रशासन के लिए पहेली सी बन गई है. मामला हुलासगंज प्रखंड से जुड़ा है जहां के फ़ाज़िलापुर गांव में बीते डेढ़ माह में अज्ञात बीमारी से पांच बच्चों मौत हो चुकी है. हुलासगंज प्रखंड क्षेत्र के फजीलापुर महादलित टोला गांव में 5 बच्चों की मौत की खबर सुनकर प्रशासन के होश फाख्ता हो गए हैं. स्थानीय बीडीओ के अलावा मेडिकल टीम ने भी गांव में पहुंचकर बच्चों की मौत की छानबीन शुरू कर दी है.

पहले आता है तेज बुखार फिर टूट जाती हैं सांसे

हुलासगंज प्रखंड मुख्यालय से 12 किलोमीटर दूर गया ज़िला की सीमा पर बसे इस गांव के ग्रामीणों ने बताया कि पिछले डेढ माह में गांव के ही चार अलग अलग घरों के बच्चों को पहले तो बुखार चढ़ा जिसका इलाज स्थानीय स्तर पर कराया गया परंतु सभी बच्चों की अस्पताल ले जाने से पहले ही मौत हो गयी. बच्चों की मौत की खबर सुनकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव का दौरा कर सभी बच्चों के स्वास्थ्य की जांच की और मामले की पड़ताल में जुट गई.

डॉक्टर बोले- मौत के कारणों की हो रही जांच

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने छानबीन के बाद बताया कि पिछले तीन महीनों में गांव के तीन बच्चों की मौत हुई है जिनमे से एक डेढ़ वर्षीय बच्ची कि मौत अपने ही परिजनों से दब कर हुई थी जबकि दो बच्चों की मौत बुखार की वजह से हुई थी. डॉ अरविंद कुमार ने बताया कि गांव में गंदगी और जलजमाव है जिसकी वजह से भी मृतक बच्चों को इन्फेक्शन हो सकता है जिसकी जांच की जा रही है. बच्चों की मौत की खबर से प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया है.

बीडीओ ने झाड़ा पल्ला

मामले की नजाकत को देखते हुए पीएचईडी की टीम के साथ गांव पहुंचे बीडीओ ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा मौत के आंकड़ों को बढ़ा चढ़ा कर पेश किया गया है, बावजूद इसके पूरे गांव में गंदगी और जलजमाव को देखते हुए ब्लीचिंग का छिड़काव और चापाकल से पानी का सैंपल ले कर जांच के लिए भेजा जा रहा है ताकि सभी मामलों की जांच की जा सके. बहराहाल बच्चों की मौत का क्या कारण है यह तो जांच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा, लेकिन पिछले डेढ़ दो माह में हुई इन मौतों से ग्रामीणों में भय व्याप्त है जबकि प्रशासन अज्ञात बीमारी से सिर्फ दो बच्चों की मौत की ही पुष्टि कर रहा है.
Loading...

ये भी पढ़ें- शूटआउट @ पटना : राजधानी में दिनदहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या

ये भी पढ़ें- घर में घुसकर बुजुर्ग दंपति की हत्या, गाय की मदद से हत्यारे तक जा पहुंची पुलिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जहानाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 10:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com