बिहार: आज थम जाएगा प्रचार का शोर, इन क्षेत्रों में 4 बजे तक ही डाले जा सकेंगे वोट

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

अंतिम दौर में 1.52 करोड़ मतदाता आखिरी चरण में 157 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इनमें 20 महिलाएं भी किस्मत आजमा रही हैं.

  • Share this:
बिहार में 17वीं लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए 19 मई को वोट डाले जाएंगे. इस चरण का चुनाव प्रचार आज शाम छह बजे समाप्त हो जाएगा. बता दें कि इस चरण में नालंदा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकाट और जहानाबाद संसदीय सीट पर वोट पड़ेंगे. ऐसे तो मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम के 6 बजे तक है, लेकिन पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र के मसौढी और पालीगंज, सासाराम के भभुआ, चैनपुर, चेनारी और सासाराम, कारकाट के डिहरी, कारकाट, गोह और नवीनगर में सुबह सात बजे से चार बजे तक ही मतदान होगा.



अंतिम दौर में 1.52 करोड़ मतदाता आखिरी चरण में 157 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इनमें 20 महिलाएं भी किस्मत आजमा रहीं हैं. इसमें दो महिला उम्मीदवार को राष्ट्रीय पार्टी ने मैदान में उतारा हैं तो 13 पर क्षेत्रीय पार्टी ने दांव लगाया है जबकि पांच निर्दलीय मैदान जीतने में जुटी हैं.



ये भी पढ़ें- सड़क हादसे में युवक की मौत से गुस्साए ग्रामीणों का पुलिस टीम पर हमला, हवाई फायरिंग





1.52 करोड़ मतदाता में 80.38 लाख पुरुष और 71.53 लाख महिला एवं 501 थर्ड जेंडर मतदाता हैं.  मतदाताओं की सुविधा के लिए चुनाव आयोग ने 15811 मतदान केंद्र बनाएं हैं.  इसमें 26233 बैलेट यूनिट और 15811 वीवीपैट व ईवीएम लगाया जाएगा.
बता दें कि सबसे अथिक 35 उम्मीदवार नालंदा लोकसभा क्षेत्र में किस्मत आजमा रहे हैं जबकि सबसे कम 11 प्रत्याशी आरा संसदीय सीट पर हैं. खास बात यह है कि सर्वाधिक बड़ा संसदीय क्षेत्र नालंदा है.



ये भी पढ़ें- बिहार: जमीन विवाद में तीन मासूम समेत चार की निर्मम हत्या, गर्भ में पल रहे बच्चे को भी मार डाला



सबसे अधिक मतदाता पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र में हैं और सबसे कम मतदाता वाला लोकसभा क्षेत्र जहानाबाद है. आखिरी दौर में डिहरी विधानसभा का उपचुनाव भी 19 मई को संपन्न होगा.



पार्टीवार प्रत्याशियों पर नजर डालें तो इस चरण में बीएसपी के 07 , बीजेपी के 05, कांग्रेस के 02, एनसीपी के 1, आरजेडी के 3, जेडीयू के 3, आरएलएसपी के 1 और अन्य 71 हैं, जबकि निर्दलीयों की संख्या 46 है.



ये भी पढ़ें- बिहार: राहुल के मंच से तेजप्रताप को नहीं मिला भाषण देने का मौका, पढ़ें क्यों हुआ ऐसा



गौरतलब है कि सातवें चरण के तहत 8 संसदीय सीटों- पटना साहिब, पाटलिपुत्र, नालंदा, बक्सर, जहानाबाद, आरा, सासाराम और काराकाट पर 19 मई को वोट डाले जाएंगे. इनमें विरासत की जंग जहां दो बेटियां (मीसा भारती और मीरा कुमार) लड़ रही हैं, वहीं एनडीए सरकार के चार मंत्रियों की किस्मत दांव पर है.



इसके साथ ही पटना साहिब पर शत्रुघ्न सिन्हा, काराकाट पर उपेन्द्र कुशवाहा तो नालंदा सीट पर नीतीश कुमार (जेडीयू उम्मीदवार कौशलेंद्र कुमार नीतीश के करीबी) की प्रतिष्ठा की लड़ाई है.



इनपुट- कुलभूषण



ये भी पढ़ें- बिहार: यादवों के गढ़ में भी बार-बार क्यों हार जाता है लालू परिवार?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज