14 साल से फरार कुख्यात नक्सली CRPF की गिरफ्त में, कई वारदातों में था वांछित
Kaimur News in Hindi

14 साल से फरार कुख्यात नक्सली CRPF की गिरफ्त में, कई वारदातों में था वांछित
कैमूर पहाड़ी के सड़की के जंगल से CRPFटीम ने नक्सली भरदुल यादव को गिरफ्तार किया

भरदुल यादव रोहतास जिले के बेल्दूरिया थाना चुटिया के रहने वाला है. नक्सली गतिविधियों में इसने 2001 में कदम रखा. उसके बाद से ही कई संगीन वारदातों को इसने अंजाम दिया बम बलास्ट से लेकर पुलिस हथियार की लूट की योजना सहित आधे दर्जन मामले में ये मुख्य आरोपी था...

  • Share this:
रोहतास/कैमूर. जनपद के चुटिया थाना और कैमूर जिले के अधौरा थाना सीआरपीएफ की संयुक्त टीम को उस समय एक बड़ी कामयाबी मिली जब उन्होंने 14 साल से फरार एक कुख्यात नक्सली (Naxalite) को गिरफ्तार कर लिया. जॉइंट आपरेशन (Joint operation) में रोहतास के कैमूर पहाड़ी के सड़की के जंगल से CRPF टीम ने नक्सली भरदुल यादव को गिरफ्तार किया.

कई वर्षों से था वांछित
बता दें कि गत 5 मई को अधौरा थानान्तर्गत ग्राम दुग्धा के जंगल में दुर्गावती नदी के किनारे पहाड़ी के खोह से दो शक्तिशाली केन बम बरामद हुए थे. जिसे सीआरपीएफ टीम के बम निरोधक दस्ते ने निष्क्रिय किया था. बम के बारे में पड़ताल के लिए अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) कैमूर के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई थी. अधिकारियों ने बताया कि इसी क्रम में आज अधौरा थाना के सीआरपीएफ कम्पनी जी-47 और कम्पनी कमांडर सी-47 ने तियरा कला थाना यदुनाथपुर जिला रोहतास और अधौरा थाना के संयुक्त छापेमारी में कुख्यात नक्सली को गिरफ्तार किया. उन्होंने बताया कि पकड़ा गया अभियुक्त कई वारदातों का वांछित है, जो कई वर्षों से फरार चल रहा था.

भरदुल यादव का आपराधिक इतिहास
भरदुल यादव रोहतास जिले के बेल्दूरिया थाना चुटिया के रहने वाला है. नक्सली गतिविधियों में इसने 2001 में कदम रखा. उसके बाद से ही कई संगीन वारदातों को इसने अंजाम दिया बम बलास्ट, पुलिस हथियार की लूट की योजना सहित आधे दर्जन मामले में ये मुख्य आरोपी था. पिछले 14 वर्षो से फरार चल रहे नक्सली को रोहतास और कैमूर पुलिस तलाश कर रही थी, आज आखिरकार ये गिरफ्त में आ ही गया.



कैमूर एसपी दिलनवाज़ अहमद ने बताया कि 5 मई को अधौरा पहाड़ी के दुग्धा गांव के जंगल में दो केन बम बरामद हुआ. जिसको लेकर सीआरपीएफ और अधौरा पुलिस लगातार छापेमारी में जुटी हुई थी. आज रोहतास पुलिस और कैमूर पुलिस के संयुक्त छापेमारी अभियान में नक्सली भरदुल यादव को सड़की के जंगल से गिरफ्तार किया गया, इसके ऊपर आधे दर्जन से ऊपर आरोप हैं. ये 14 वर्ष से फरार चल रहा था. नक्सली टीम कामेश्वर बैठा के गिरोह का सदस्य था इसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है.

ये भी पढ़ें- COVID-19: प्रवासी मजदूरों ने बढ़ाया झारखंड में कोरोना का ग्राफ, पिछले 8 दिनों में 197 लोग पॉजिटिव

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज