होम /न्यूज /बिहार /

गैंग रेप का वीडियो वायरल मामले में मोहनियां में दो पक्षों में फायरिंग, धारा 144 लागू, इंटरनेट भी बंद

गैंग रेप का वीडियो वायरल मामले में मोहनियां में दो पक्षों में फायरिंग, धारा 144 लागू, इंटरनेट भी बंद

गैंगरेप के विरोध में मोहनिया में बवाल, आरोपी का घर फूंका, आधा दर्जन दुकानों में आगजनी, धारा 144 लागू

गैंगरेप के विरोध में मोहनिया में बवाल, आरोपी का घर फूंका, आधा दर्जन दुकानों में आगजनी, धारा 144 लागू

गैंग रेप के चारों आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. लेकिन, दूसरे पक्ष के लोग चारों आरोपियों को जल्द फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं. इसी बात को लेकर बीते हफ्ते तीन बार मोहनियां और भभुआ में आगजनी, सड़क जाम और हंगामा हो चुका है.

अधिक पढ़ें ...
    कैमूर. लड़की के साथ गैंग रेप (Gang Rape)कर अश्लील वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल करने के मामले में आरोपियों को फांसी की मांग को लेकर मोहनियां में गुरुवार को लोग सड़क पर उतर आए. आक्रोशित लोगों ने इसको लेकर पर जमकर बवाल किया जिसके बाद हुई गोलीबारी और आगजनी में 10 से अधिक लोग घायल  हो गए. दो पक्षों में तनाव को देखते हुए यहां धारा 144 लागू कर दी गई है साथ ही इंटरनेट सेवा (Internet Service) भी बंद कर दी गई. बताया जा रहा है कि इस मामले में अब तक 18 लोगों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है.

    तनावपूर्ण हालात को देखते हुए रोहतास और बक्सर के एसपी के साथ एसटीएफ के डीआईजी भी क्षेत्र में कैम्प कर रहे हैं. हर चौक चौराहे पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं. गुरुवार को मोहनियां में हुए बवाल करने वाले उपद्रवियों की पहचान के लिए पुलिस सीसीटीवी खंगाल रही है.

    बदा दें कि गैंग रेप के चारों आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. लेकिन, दूसरे पक्ष के लोग चारों आरोपियों को जल्द फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं. इसी बात को लेकर बीते हफ्ते तीन बार मोहनियां और भभुआ में आगजनी, सड़क जाम और हंगामा हो चुका है.

    कैमूर के डीएम नवल किशोर चौधरी और कैमूर के एसपी दिल नवाज अहमद ने कैमूर वासियों से शांति बनाने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है. बता दें कि एक छात्रा के साथ चलती कार में हुए सामूहिक दुष्कर्म किया गया था जिसके बाद उसका वीडियो वायरल कर दिया गया था.

    हालांकि पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. उम्मीद की जा रही थी इसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हो जाएगा, लेकिन हुआ उल्टा. बहरहाल हालात की गंभीरता को देखते हुए शुक्रवार की सुबह जिला के वरिष्ठ अफसरों के नेतृत्व में शहर में फ्लैग मार्च किया गया.

    इनपुट- प्रमोद कुमार

    ये भी पढ़ें

    नाबालिग से गैंगरेप के बाद कैमूर में बवाल, कई दुकानों और गाड़ियों में लगाई आग

    प्रेमिका को मिलने के लिए बुलाया फिर चलती गाड़ी में दोस्तों के साथ किया रेप

    Tags: Gang Rape, Viral video

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर