शर्ट के नीचे छिपा कर ले जा रहे थे 92 लाख कैश, चेकिंग के दौरान कार सवार तीन युवक गिरफ्तार
Kaimur News in Hindi

शर्ट के नीचे छिपा कर ले जा रहे थे 92 लाख कैश, चेकिंग के दौरान कार सवार तीन युवक गिरफ्तार
आरोपी युवक पैसों को कार में छिपाकर उसे बनारस से कोलकाता डिलिवरी करने जा रहे थे (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वो यह पैसा बनारस से ला रहे हैं और इसे कोलकाता डिलिवरी देनी थी. पुलिस ने बरामद रुपयों के सही कागजात नहीं होने पर तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 29, 2020, 11:30 PM IST
  • Share this:
मोहनिया. बिहार (Bihar) के कैमूर जिले में मोहनिया (Mohania) चेक पोस्ट पर उत्पाद विभाग और पुलिस ने चेकिंग (Police Checking) के दौरान 92 लाख रुपए बरामद किए हैं. दरअसल शराब की तस्करी (Smuggling) को लेकर एनएच-2 (NH-2) पर वाहनों की चेकिंग चल रही थी. इस दौरान संदेह होने पर एक लग्जरी कार को रोका गया. कार में तीन युवक सवार थे. पुलिस ने जब उनकी तलाशी ली तो उनके कुर्ते के नीचे कपड़े के जैकेट में 92 लाख रुपए बरामद हुए. पूछने पर उन्होंने बताया कि वो यह पैसा बनारस से ला रहे हैं और इसे कोलकाता डिलिवरी देनी थी.

युवकों ने बताया कि पैसों की डिलिवरी हो जाने पर उन्हें प्रति व्यक्ति पांच हजार रुपया मिलता है. पुलिस ने बरामद रुपयों के सही कागजात नहीं होने पर तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. मजिस्ट्रेट के उपस्थिति में जब्त किए गए पैसों की गिनती हुई. यह रकम इतनी ज्यादा थी कि भभुआ एसबीआई शाखा से कैश गिनने की मशीन लानी पड़ी. पुलिस ने इनकम टैक्स विभाग को सूचना दे दिया है.

कुर्ते के नीचे कपड़े के जैकेट में छिपा कर ले जा रहे थे रकम



पुलिस मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है. कैमूर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) दिलनवाज अहमद ने बताया कि उत्पाद विभाग और मोहनिया पुलिस शराब तस्करी को लेकर मोहनिया चेक पोस्ट पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी. तभी एक कार को रोका गया और उसमें सवार तीन युवकों की तलाशी ली गई जिसमें उनके पास से 92 लाख रुपए बरामद हुए.
अहमद ने बताया कि बरामद रकम बनारस से ले जाकर कोलकाता डिलिवरी देना था. आरोपियों के पास पैसों का कोई ठोस सबूत नहीं है. वो बता नहीं सके कि यह किसका पैसा है. पुलिस पता लगाने का प्रयास कर रही है कि यह पैसे किसके हैं, और किस मकसद से इतनी बड़ी रकम भेजी जा रही थी.

बता दें कि इसी साल फरवरी महीने में भी यहां एक करोड़ 30 लाख रुपए बरामद हुए थे. रकम ले जा रहे दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा था. वो पैसा भी बनारस से कोलकाता ले जाया जा रहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading