जब..मोबाइल लोकेशन से पुलिस ने सुलझा दी अपहरण की झूठी कहानी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

बिहार की कैमूर पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

News18 Bihar
Updated: July 15, 2019, 12:54 PM IST
जब..मोबाइल लोकेशन से पुलिस ने सुलझा दी अपहरण की झूठी कहानी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
मामले की जानकारी देते कैमूर के एसपी
News18 Bihar
Updated: July 15, 2019, 12:54 PM IST
बिहार के कैमूर में फर्जी अपहरण का मामला प्रकाश में आया है. इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि उनको रात में सूचना मिली कि एक ट्रक मालिक को कुछ अपराधियों ने हथियार के बल पर अगवा कर लिया है और फिरौती के लिए 9 लाख रूपये के फिरौती की मांग कर रहे हैं.

इसको लेकर पुलिस ने सभी थानों को अलर्ट कर दिया. पुलिस ने मोबाइल ट्रैक किया गया तो चैनपुर का लोकेशन मिला जिसके बाद पुलिस ने छानबीन की तो अपहरणकर्ता और पीड़ित दोनों बरामद हुए. पुलिस ने दोनो से पूछताछ की तो पता चला कि फिरौती और अपहरण का मामला नहीं है बल्कि ट्रक के बेचने और पैसा का बकाया को लेकर मामला सामने आया है.

संजय सिंह ने अपना ट्रक राजीव सिंह को बेचा था जिसमें 2.5 लाख रूपया बाकी था. इसके बाद ट्रक में आग लग गई तो राजीव ने गाड़ी को बनारस कबाड़ी में बेच दिया. संजय सिंह ने ट्रक के आग लगने का इंश्योरेंस भरा जो 13 लाख रूपया आ गया.

पुलिस की गिरफ्त में आये आरोपी


अब दोनों पैसे को लेकर एक दूसरे पर दबाब बनाने लगे जिसको लेकर राजीव ने संजय को अगवा कर लिया कि जब तक 13 लाख रूपया नहीं देगा तो तुम्हें छोड़ेंगे नही. पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अरोपी राजीव सिंह को जेल भेज दिया है.

रिपोर्ट- प्रमोद कुमार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कैमूर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 15, 2019, 12:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...