शराब पीकर शव का पोस्टमार्टम कराने पहुंचा पुलिसकर्मी, अस्पताल में मचाया बवाल
Kaimur News in Hindi

शराब पीकर शव का पोस्टमार्टम कराने पहुंचा पुलिसकर्मी, अस्पताल में मचाया बवाल
रविवार को बिक्रमगंज पुलिस ने 55 कार्टन अंग्रेजी शराब बरामद किया था.

बिक्रमगंज थाना में पदस्थापित हवलदार राज करण राम (Raj Karan Ram) एक शव का पोस्टमार्टम कराने सासाराम के सदर अस्पताल आया और जमकर हंगामा किया. उसने कैमरा पर्सन और पत्रकारों को अपशब्‍द भी कहे.

  • Share this:
सासाराम. बिहार में पिछले कई वर्षों से शराबबंदी जरूर है, लेकिन जब पुलिसकर्मी ही इस कानून की धज्जियां उड़ाने लगे तो सवाल उठना लाज़मी है. रोहतास जिला के बिक्रमगंज थाना (Bikramganj Police Station) में पदस्थापित राज करण राम जब सोमवार को शराब के नशे में चूर होकर एक शव का पोस्टमार्टम कराने सासाराम सदर अस्पताल (Sasaram Sadar Hospital) पहुंचा, तो उसके ड्रामे को देखकर सभी सकते में आ गए. जब उससे शराब पीने के बारे में पूछा गया तो पत्रकारों और कैमरा पर्सन से ही गाली-गलौज करने लगा. इतना ही नहीं मारने के लिए भी दौरा और खुद जमीन पर गश खाकर गिर गया. ये नशे के दौरान अपने आपको सरकारी आदमी बताता है तथा धमकी भी देता है कि हम से पंगा मत लो. फोटो खींचना है तो और लोग जो शराब पी रहे हैं उसका खींचो.

दरअसल, बिक्रमगंज थाना में पदस्थापित हवलदार राज करण राम एक शव का पोस्टमार्टम कराने सासाराम के सदर अस्पताल आया और जमकर हंगामा किया. बाद में स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे संभाला. लेकिन जब तक वह अस्पताल परिसर में रहा, शराब के नशे में वर्दी का रौब दिखाता रहा. तस्वीर ले रहे कैमरा पर्सन तथा पत्रकारों को जमकर गालियां दीं. ऐसे में इस बात का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि रोहतास में शराबबंदी की क्या स्थिति है.

55 कार्टन अंग्रेजी शराब बरामद
बता दें कि रविवार को बिक्रमगंज पुलिस ने 55 कार्टन अंग्रेजी शराब बरामद किया था. संभवत: उन्ही शराब में से यह पुलिसकर्मी कुछ बोतल गटक लिए और सुबह- सुबह ड्यूटी जाने के लिए वर्दी पहन कर सासाराम पहुंच गया. इतना ही नहीं, शराब के नशे में वह बयान भी दे रहा है. बताया जाता है कि उन्हीं जप्त शराब में से रामकरण ने एक-दो बोतल झटक लिया. तथा मौके मिलते हैं कुछ पैग अपने अंदर गटक लिया. पता था कि कोरोना के कारण इन दिनों शराब पर प्रशासन का ध्यान कम है. ऐसे में शराब माफिया फल-फूल रहे हैं.
पुलिसकर्मी पत्रकार को देता रहा धमकी और गालियां


नशे में धुत रामकरण ने पत्रकारों को दम भर गालियां दी. इतना ही नहीं जान से मारने की धमकी भी दे डाली. नशे की हालत में पत्रकारों को दूर तक दौड़ाया. लेकिन राज करण की हालत इतनी खराब थी कि वह कई बार गश खाकर खुद जमीन पर उलट गया. नशे में वह बरबराता रहा और पत्रकारों को देख लेने की धमकी देता रहा. उसने नशे में ही कहा कि बड़े-बड़े लोग दारू पीते हैं तो उन्हें कोई नहीं देखता और जब मैं पीता हूं तो पत्रकार फोटो खींचते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading