लाइव टीवी

कॉलेज प्रशासन ने उड़ाया गरीबी का मजाक! छात्र ने दी खुदकुशी की चेतावनी, वीडियो वायरल

News18 Bihar
Updated: September 14, 2019, 12:49 PM IST
कॉलेज प्रशासन ने उड़ाया गरीबी का मजाक! छात्र ने दी खुदकुशी की चेतावनी, वीडियो वायरल
कैमूर में गरीबी से तंग आकर एक छात्र ने आत्महत्या की चेतावनी दी और इसका वीडियो बनाकर वायरल किया.

छात्र का आरोप है कि कार्यालय में उसकी गरीबी का मजाक उड़ाया गया. इससे पीड़ित होकर उसने वीडियो बनाया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 14, 2019, 12:49 PM IST
  • Share this:
कैमूर. गरीबी की पीड़ा क्या होती है इसकी हकीकत को बताता एक वीडियो जिले में वायरल हो रहा है. यहां बीएड कॉलेज (B.Ed College) के छात्र ने डीप्रेशन में आकर आत्महत्या (Suicide) कर लेने की चेतावनी देते हुए एक वीडियो सूट किया और वह टूर फीस जमा कर पाने में अपनी असमर्थता जाहिर की. बताया जा रहा है कि ये वीडियो उसने तब बनाया जब छात्र ने खुद को टूर प्लान (Tour Plan) में शामिल नहीं करने का कॉलेज प्रशासन से अनुरोध किया, लेकिन कॉलेज प्रशासन टूर फीस लेने की मांग पर अड़ा रहा. इस मामले में परिजनों ने अब डीएम से मदद की गुहार लगाई है.

फीस देने में असमर्थ छात्र का आरोप
मामला राज शंकर बीएड कॉलेज, बागे का है. बताया जा रहा है कि यहां राजस्थान टूर पर काॉलेज के छात्रों को ले जाना है. इसके लिए कॉलेज ने प्रत्येक छात्र को 5 हजार रूपये फीस के तौर पर जमा करने को कहा है. एक छात्र ने जब गरीबी के कारण पैसे नहीं होने की बात बताई तो कॉलेज प्रशासन ने उसकी बात अनसुनी कर दी.



टूर के पैसे नहीं देने पर फेल करने की धमकी
राजमिस्त्री का काम करने वाले पिता की संतान इस छात्र ने टूर पर नहीं ले जाए जाने की बात कहते हुए आवेदन भी देना चाहा, लेकिन बताया जा रहा है कि होने पर कॉलेज के प्रिंसिपल ने आवेदन लिया ही नहीं. इतना ही नहीं छात्र पर फीस के पैसे देने का दबाव भी बनाया. बताया जा रहा है कि छात्र को फेल करने की धमकी दी गई.

Kaimur
छात्र द्वारा कॉलेज प्रिंसिपल को दिया जाने वाला आवेदन.

Loading...

मेरी गरीबी का मजाक उड़ा गया-छात्र
छात्र का आरोप है कि कार्यालय में उसकी गरीबी का मजाक उड़ाया गया. इससे पीड़ित होकर उसने वीडियो बनाया. इसमें उसने कहा कि अगर टूर फीस नहीं देने के कारण अगर वह फेल होता है तो आत्महत्या कर लेगा.

बीएड करना चाहते हैं पर पैसे का अभाव
छात्र का कहना है कि हमें न्याय चाहिेए. हम बीएड तो कहना चाहते हैं लेकिन फीस भरने के लिए हमारे पास पैसा नहीं है. उसने यह भी कहा कि जब भी कॉलेज से पैसे की मांग होती है हम देते हैं. लेकिन, इस बार घर में पैसे नहीं होने के कारण ही हमने टूर पर नहीं जाने का आवेदन दिया.

प्रिंसिपल ने आरोपों को किया खारिज
वहीं, बीएड कॉलेज के प्रिंसिपल प्रदीप कुमार ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि टूर प्लान इस कोर्स के तहत आता है और इसे पूरा करना होगा. वह जाने में सक्षम नहीं होगा तब भी ले जाएंगे.

पिता ने बताई मजबूरी
दूसरी ओर छात्र महावीर के पिता कहते हैं कि हर बार फीस दे देते थे, इस बार हमारे पास पैसे नहीं हैं. इसका मतलब यह तो नहीं कि बच्चा अगर गरीब हो तो उसे फीस न देने के कारण फेल कर देंगे.  एक-एक पैसा जोड़कर बीएड में नामांकन कराए है. बहरहाल इस मामले की सच्चाई क्या है यह तो जांच का विषय है.

ये भी पढ़ें- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कैमूर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 14, 2019, 11:18 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...