मुखिया ने सुनाया तुगलकी फरमान, शौचालय नहीं तो राशन नहीं

पूरा मामला मोहनिया प्रखंड के बेलौड़ी पंचायत का है. यहां के मुखिया मीर इमरान ने सभी डीलरों को कह दिया है, जिन व्यक्तियों के घर में शौचालय नहीं होगा. उनके परिवारों का राशन बंद कर दिया जाए.

News18 Bihar
Updated: September 15, 2018, 4:12 PM IST
मुखिया ने सुनाया तुगलकी फरमान, शौचालय नहीं तो राशन नहीं
कैमूर में महिलाओं ने किया प्रदर्शन
News18 Bihar
Updated: September 15, 2018, 4:12 PM IST
बिहार के कैमूर जिले में मुखिया ने एक तुगलकी फरमान सुनाया है. मुखिया का कहना है कि अगर घरों में शौचालय नहीं बनाया तो राशन नहीं मिलेगा. इस आदेश को सुनकर सभी गांववासी भड़क गए है. गांव वालों का कहना है कि बिना पूर्व सूचना के अचानक से राशन बंद कर देना गलत है.

पूरा मामला मोहनिया प्रखंड के बेलौड़ी पंचायत का है. यहां के मुखिया मीर इमरान ने अपने पंचायत के लोगों को तुगलकी फरमान सुना डाला है. मुखिया ने सभी डीलरों को कह दिया है, जिन व्यक्तियों के घर में शौचालय नहीं होगा. उनके परिवारों का राशन बंद कर दिया जाए. यह फरमान सुनते ही कम आय वाले लोगों के बीच हड़कंप मच गया.

ग्रामीणों ने बताया हम लोगों के पास इतने पैसे नहीं हैं कि हम लोग शौचालय का निर्माण करा सकें. हमारे घर में कुल 14 सदस्यों का परिवार है. बहुत मुश्किल से किसी तरह दिन रात मेहनत करके दो वक्त के भोजन का जुगाड़ कर पाते हैं. मुखिया द्वारा किसी प्रकार का पहले से मैसेज नहीं दिया गया. अब अचानक निर्देश जारी कर दिया गया कि शौचालय नहीं होगा तो राशन नहीं मिलेगा. इस आदेश से हम लोगों के भूखे मरने की स्थिति आ गई है.

यह भी पढ़ें: बरेली में रहस्यमयी बुखार का कहर जारी, 34 पहुंचा मौतों का आंकड़ा

यह भी पढ़ें: इकॉनमी पर मंथन: RBI गवर्नर ने PM मोदी को दी प्रेजेंटेशन, सरकार ने लिए ये फैसले 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर