लाइव टीवी

COVID-19: 'पहले जांच करवाओ फिर गांव में रखो कदम'! कैमूर के गांववालों ने पेश की मिसाल
Kaimur News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 24, 2020, 11:45 AM IST
COVID-19: 'पहले जांच करवाओ फिर गांव में रखो कदम'! कैमूर के गांववालों ने पेश की मिसाल
कैमूर जिले के कई गांवों में लोगों ने बाहर से आने वाले लोगों के लिए बिना जांच करवाए प्रवेश पर रोक लगा रखी है.

गांववालों के दबाव पर विभिन्न प्रदेशों-जिलों से आए करीब 100 से ज्यादा लोगों की सदर अस्पताल में स्क्रीनिंग की गई. राहत की बात ये रही कि किसी मे कोरोना का लक्षण नहीं मिला.

  • Share this:
कैमूर. डॉक्टर से लेकर वैज्ञानिक, सरकार से लेकर प्रशासन तक सभी एक ही बात कह रहे हैं कि कोरोना वायरस के संक्रमण (Corona virus infection0 से से बचना है तो आइसोलेशन में रहना है. जाहिर है संक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी जरूरी है. ऐसे में बिहार के कैमूर जिले के ग्रामीण मिसाल बनकर सामने आए हैं. कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले, इसको लेकर जिले से बाहर गए लोगों को गांव में घुसने नहीं दिया जा रहा है. जो इस बात का विरोध कर रहे हैं उनके साथ ग्रामीण सख्ती बरत रहे हैं. गांववाले यही कहते हैं कि पहले अस्पताल में जांच करवा लो, फिर गांव में प्रवेश करो.

इसी क्रम में गांववालों के दबाव पर विभिन्न प्रदेशों-जिलों से आए करीब 100 से ज्यादा लोगों की सदर अस्पताल में स्क्रीनिंग की गई. राहत की बात ये रही कि किसी मे कोरोना का लक्षण नहीं मिला. ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना जैसी महामारी को रोकने के जररूत पड़े तो अपनों से भी सख्ती कर कर उनकी जांच करवाएं.

क्या कहते हैं बाहर से आए युवक
गवाई मोहल्ला भभुआ वार्ड नम्बर 20 के मंटू कुमार और चांद थाना के केसरी गांव के रहने वाले नन्द लाल साह ने बताया कि हम मुंबई कमाने गए थे, कोरोना के डर को लेकर हम अपने गांव लौटकर आए पर गांववालों ने गांव में घुसने ही नहीं दिया. बोला पहले अस्पताल जाकर अपना चेकअप करवा लो फिर गांव आना. उसी को लेकर भभुआ सदर अस्पताल में आये हैं. जांच हुई और सब ठीक-ठाक है. अब अपने गांव जा रहे हैं.



क्या कहते हैं सदर अस्पताल के उपाधीक्षक
सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ बिनोद कुमार का कहना है कि रोज लोग बाहर से गांव लौट रहे हैं. सूचना मिलने पर मेडिकल टीम गांव जाकर लोगों को जांच कर रही है. या फिर जो लोग सदर अस्पताल आते हैं उनकी भी जांच की जा रही है.

बता दें कि कोरोना वायरस एक दूसरे में फैलने वाला बीमारी है जिसको लेकर काफी एहतियात बरतने की जरूरत है. इसके तहत सेल्फ आइसोलेशन सबसे बड़ा उपाय है. सरकार ने भी इसके लिए सख्त कदम उठाते हुए बिहार में संपूर्ण लॉक डाउन कर दिया है और प्रशासन द्वारा लोगों से अपील की जा रही है कि  जरूरत हो तो ही घर से निकलें नहीं तो घर में रहें. सभी के सहयोग से ही कोरोना को रोका जा सकता है.

(रिपोर्ट- प्रमोद कुमार)

ये भी पढ़ें

Bihar: लॉक डाउन का आदेश नहीं माने तो पुलिस करेगी बल प्रयोग, इन धाराओं में दर्ज होंगे केस

COVID-19: पांच चेक पॉइंट से गुजरकर होगी बिहार के इस जिले में एंट्री

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कैमूर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 11:45 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर