यूपी पुलिस ने जब RJD MLA की निकाली हेकड़ी, समर्थकों संग लौटना पड़ा बिहार, जानें पूरा माजरा

मोहनिया बॉर्डर पर यूपी पुलिस और राजद विधायक सुधाकर सिंह में हुई बहस

यूपी पुलिस (UP Police) ने सभी लोगों को गाड़ियों में बैठकर अपने गंतव्य, दिल्ली जाने के लिए बार-बार आग्रह किया, लेकिन राजद विधायक सुधाकर सिंह (RJD MLA Sudhakar Singh) और उनके समर्थक पैदल मार्च करने पर अड़ गए.

  • Share this:
कैमूर. रामगढ़ के राजद विधायक सुधाकर सिंह (RJD MLA Sudhakar Singh) की यूपी पुलिस (UP Police) के सामने एक नहीं चली. बुधवार को उनके नेतृत्व में  मोहनिया पहुंचे उड़ीसा के सैकड़ों किसानों के जत्था को पैदल मार्च करने से रोक दिया गया. दरअसल  बिहार यूपी बॉर्डर पर किसानों ने पैदल मार्च कर यूपी में जैसे ही प्रवेश किया तो  यूपी पुलिस ने रोक दिया. यूपी में धारा 144 लगने का हवाला देते हुए पैदल मार्च को रोका गया. हालांकि राजद विधायक फिर भी नहीं माने और पुलिस से उलझने लगे. लेकिन  उनकी हेकड़ी नहीं चली और योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की यूपी पुलिस ने उन्हें सैकड़ों समर्थकों समेत वापस बिहार भेज दिया.

यूपी पुलिस ने सभी लोगों को गाड़ियों में बैठकर अपने गंतव्य दिल्ली जाने के लिए बार-बार आग्रह किया गया, लेकिन राजद विधायक और उनके समर्थक पैदल मार्च करने पर अड़ गए. लेकिन, यूपी पुलिस ने बात नहीं मानी तो उन्होंने सड़क जाम करने की धमकी दी. इस पर पुलिस भड़क गई और अपने तेवर कड़े कर लिए. फिर रामगढ़ के विधायक सहित सभी बिहार से आए समर्थकों को वापस बिहार लौट जाने की चेतावनी दी.

हालांकि सुधाकर सिंह बिहार-यूपी बॉर्डर के पास उड़ीसा से आए किसानों को साथ लेकर राजद के लोगों ने सड़क को जाम कर वहीं पर नारेबाजी करनी शुरू कर दी. इस पर  यूपी पुलिस ने कड़ा रुख अपनाते हुए उन सभी को वहां से हटवाया और उड़ीसा से दिल्ली के लिए निकले किसानों का जत्था को गाड़ियों में बैठकर दिल्ली जाने के आग्रह पर उन्हें जबरन वापस भेज दिया. इसके बाद राजद विधायक को  अपने कार्यकर्ताओं के साथ यूपी की सीमा से बैरंग लौटना पड़ा.

क्या बोली यूपी पुलिस
यूपी के चंदौली जिले के एएसपी  प्रेम चंद ने बताया कि यूपी में धारा 144 लगी है. हुजूम पर मनाही है, पैदल मार्च नहीं करना है. जो उड़ीसा के किसान आए हैं उनको वाहनों के माध्यम से जहां जाना था वहां जाने जाने के लिए छोड़ दिया गया है. बिहार के राजद विधायक सहित कुछ लोग आए हुए थे जिनको वापस बिहार भेज दिया गया है .

क्या बोले राजद विधायक
विधायक सुधाकर सिंह ने कहा सरकार एक तरफ कहती है कि बिहार के किसान दिल्ली में हो रहे किसान आंदोलन में शामिल नहीं है. वहीं बिहार के किसानों को यूपी प्रशासन दिल्ली जाने नहीं दिया जा रहा है.बुधवार को हजारों की संख्या में मेरे साथ किसान यूपी में प्रवेश किए थे, लेकिन वहां पर पुलिस बैरियर लगाकर सैकड़ों फोर्स के साथ हमलोगों को रोक दिया गया. राजद विधायक ने आरोप लगया कि यूपी पुलिस ने उनके साथ  अभद्र भाषा का भी प्रयोग किया  यह जानते हुए भी कि मैं बिहार में  राजद का विधायक हूं. लेकिन उनके इस हेकड़ी से हम लोग का मनोबल नहीं टूटेगा.

राजद  नेता ने वापस बिहार लौटने पर केंद्र और यूपी सरकार पर आरोप लगाया कि किसान आंदोलन में शामिल बिहार के किसानों को रोका जा रहा. किसान कानून के विरोध करने पर यूपी में जाने नहीं दिया जा रहा है. सरकार किसान की आवाज को दबा देना चाहती है जो कभी होने नहीं देंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.